एस जयपाल रेड्डी
एस जयपाल रेड्डी

हैदराबाद/भाषा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री एस जयपाल रेड्डी का शनिवार देर रात हैदराबाद के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे 77 वर्ष के थे। कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि रेड्डी को हाल में निमोनिया हुआ था और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां देर रात एक बजकर 28 मिनट पर उनका देहांत हो गया।

रेड्डी ने विभिन्न सरकारों में अहम पद संभाले। वे चार बार विधायक, पांच बार लोकसभा सांसद और दो बार राज्यसभा सदस्य चुने गए थे। रेड्डी आईके गुजराल सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री रहे थे। संप्रग-एक के दौरान उन्होंने शहरी विकास और संस्कृति जैसे मंत्रालय संभाले।

संप्रग-दो सरकार में वे फिर शहरी विकास मंत्री बने। बाद में वे पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री बने लेकिन फिर उन्हें विज्ञान एवं प्रौद्योगिक और पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय सौंप दिए गए। कांग्रेस के लोकसभा सांसद कोमतीरेड्डी वेंकट रेड्डी ने कहा कि जयपाल रेड्डी का अंतिम संस्कार सोमवार को होगा।

जयपाल रेड्डी के आवास पर पत्रकारों से बात करते हुए वेंकट रेड्डी ने कहा कि राज्य सरकार को उनकी लोकप्रियता को देखते हुए अंतिम संस्कार के लिए एक स्थान आवंटित करना चाहिए। वेंकट रेड्डी ने कहा, हम राज्य सरकार से उनके अंतिम संस्कार के लिए एक स्थान आवंटित करने का अनुरोध करेंगे क्योंकि उनके हजारों समर्थकों और लोगों के इसमें शामिल होने की संभावना है। आम शवदाहगृह में इतने लोग नहीं आ सकते।

उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी राज्य सरकार और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव से किसी परियोजना या स्थान का नाम जयपाल रेड्डी के नाम पर रखने का अनुरोध करेगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रेड्डी के देहांत पर शोक जताया है। कोविंद ने एक ट्वीट किया, पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री एस जयपाल रेड्डी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ। वे एक विचारशील नेता और उत्कृष्ट सांसद थे। उनके परिवार और अनेक साथियों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं।

कांग्रेस ने ट्वीट किया कि रेड्डी के निधन की खबर बेहद दुखद है। पार्टी ने कहा, हम कामना करते हैं कि दुख की इस घड़ी में उनके परिवार और दोस्तों को हौसला मिले। कांग्रेस की तेलंगाना इकाई के प्रमुख उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा, जयपाल रेड्डी के आकस्मिक निधन से बहुत दुखी हूं। उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेता को बेहतरीन वक्ता, अच्छा इंसान और बुद्धिजीवी बताया।

उन्होंने कहा, यह मेरे और पूरी कांग्रेस पार्टी के लिए निजी रूप से भारी क्षति है। हमें उनकी कमी महसूस होगी। मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के बेटे एवं टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष केटी राम राव ने भी रेड्डी के निधन पर शोक जताया। उन्होंने ट्वीट किया, वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयपाल रेड्डी के परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी संवेदनाएं। ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे।

के. चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने भी वरिष्ठ कांग्रेस नेता के निधन पर दुख जताया। केसीआर ने एक बयान में केंद्रीय मंत्री और सांसद के रूप में जयपाल रेड्डी के काम को याद किया। जगन ने एक बयान में कहा, वाकपटुता के लिए पहचाने जाने वाले जयपाल रेड्डी ने संसद और राज्य विधानसभा में अपना अलग मुकाम बनाया। मुख्यमंत्री शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी संवेदनाएं जताते हैं।

एआईसीसी प्रवक्ता दसोजू श्रवन प्रवक्ता ने कहा कि यह पार्टी, तेलंगाना और देश के लोगों के लिए भारी क्षति है। श्रवण ने कहा, मैं उनके निधन से स्तब्ध हूं। वे एक आदर्श नेता थे। उनकी ईमानदारी पर कोई सवाल नहीं था। उन्होंने कहा, तेलंगाना के गठन में उनकी भूमिका शानदार थी। उन्होंने बिना शोर-शराबे के कांग्रेस और विभिन्न राजनीतिक पार्टी के नेताओं से निजी तौर पर बात कर और उन्हें मनाकर राजी करने का बड़ा काम किया।

LEAVE A REPLY

2 + eleven =