सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

चेन्नई/भाषा। आईआईटी मद्रास एलुमनाई एसोसिएशन (आईआईटीएमएए) की ओर से 2030 के भारत को लेकर ‘राष्ट्र के मिजाज’ को भांपने के लिए कराए गए सर्वेक्षण में सामने आया है कि ज्यादातर लोग आज से एक दशक बाद के देश को लेकर अत्यंत सकारात्मक हैं।

आईआईटीएमएए ने संगम 2019 सम्मेलन के अवसर पर ‘मूड ऑफ द नेशन’ सर्वेक्षण जारी किया। यह सम्मेलन एलुमनाई का प्रमुख कार्यक्रम है। यहां जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि यह सर्वेक्षण 2030 के भारत को लेकर लोगों की भावनाओं को भांपने और भारतीयों को प्रेरित करने वाले आदर्शों का पता लगाने” के लिए किया गया।

इसमें कहा गया, सर्वेक्षण में पाया गया कि 2030 के भारत के प्रति सभी प्रतिभागियों का मिजाज बेहद सकारात्मक है जिसमें से 74 प्रतिशत को लगता है कि भारत की वित्तीय एवं आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।’

सर्वेक्षण में महिलाओं, छात्रों और आईआईटी मद्रास के पूर्व छात्रों समेत 2,295 लोगों को शामिल किया गया। इसमें पाया गया कि सभी प्रतिभागियों ने वैज्ञानिकों को अपना आदर्श जरूर बताया। इसके अलावा नेता और कारोबारी भी इनमें शामिल थे।