चेन्नई मेट्रो रेल ने भूमिगत स्टेशनों पर यात्रियों को उपलब्ध करायी मुफ्त वाईफाई

चेन्नई/दक्षिण भारत । चेन्नई मेट्रो रेल का सफर करते समय गुरुवार से यात्री इंटरनेट का उपयोग और कॉल कर सकेंगे। पहले यह संभव नहीं था क्योंकि इंटरनेट कनेक्टिविटी और मोबाइल नेटवर्क भूमिगत स्टेशनों में उपलब्ध नहीं थे। यात्री अब चेन्नई हवाईअड्डे की तरह ही मुफ्त में वाईफाई सेवाओं का उपयोग भी कर सकते हैं। एक प्रेस विज्ञप्ति में, मेट्रो रेल प्रबंधन ने कहा कि एयरटेल ने तीन स्टेशनों को छोड़कर ग्रीन और ब्ल्यू दोनों लाइनों के साथ 4जी डेटा और वॉयस सेवाएं प्रदान करने का फैसला किया है। अधिकारियों ने कहा कि चेन्नई सेंट्रल, एलआईसी और थाउज़ैंड लाइट्स स्टेशन दिसंबर के पहले सप्ताह तक इस सुविधा से लैस हो जाएंगे। जियो सेवाएं पहले से ही तिरुमंगलम और एग्मोर स्टेशनों के बीच मौजूद हैं लेकिन कमजोर नेटवर्क कनेक्टिविटी के कारण कई जगह मोबाइल सिग्नल नहीं मिलता है। अब, इसे एयरटेल सेवाओं के साथ सभी स्टेशनों तक बढ़ा दिया गया है। इसी साल फरवरी में, सीएमआरएल ने 45 किलोमीटर के चरण एक खंड के साथ इंटरनेट सेवाओं को स्थापित करने और चालू करने के लिए निविदाएं जारी की थीं्। हालांकि पहली भूमिगत लाइन डाले हुए दो साल से अधिक समय हो गया था, सभी मेट्रो स्टेशनों में नेटवर्क कवरेज प्रदान करने के लिए लगातार देरी हो रही थी। अधिकारियों ने कहा कि देरी के पीछे एक कारण नेटवर्क प्रदाता ढूंढ़ना था। एक अधिकारी ने बताया, एक बार वॉशरमैनपेट से विमको नगर तक का विस्तार मार्च 2020 के आसपास खुल जाए, नेटवर्क कवरेज और मुफ्त इंटरनेट सेवाएं यहां भी प्रदान की जाएंगी। इसके अलावा, मेट्रो यात्रियों के लिए सभी 19 भूमिगत स्टेशनों में मुफ्त लैंडलाइन सेवाओं की व्यवस्था की गई है।
इस ’निशुल्क उपयोग के लिए’ टेलीफोन सुविधा का इस्तेमाल आपात स्थिति के लिए किया जा सकता है।
वे सम्मिलित क्षेत्र में स्थित ग्राहक सेवा भाग में उपलब्ध होंगे। इसके अलावा, सभी स्टेशनों पर यात्री आपातकालीन टेलीफोन, प्रति प्लेटफॉर्म दो नंबर प्रदान किए गए हैं, ताकि आपात स्थिति में यात्री मेट्रो रेल कर्मचारियों से संपर्क कर सकें।