बेंगलूरु/दक्षिण भारत
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने मंगलवार को मुंबई में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस से मिले और दोनोें के बीच कृष्णा तथा महादायी सहित अन्तर राज्य नदी जल बंटवारे से सम्बन्धित मुद्दों पर चर्चा हुई। मंगलवार को से मुंबई के लिए रवाना होने से पहले संवाददाताओं से बातचीत करते हुए येडियुरप्पा ने कहा कि मैं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस के आमंत्रण पर उनसे मुलाकात करने जा रहे हैं, जो उनके साथ अंतर राज्य जल विवाद से सम्बन्धित मुद्दों तथा हाल में आई बाढ़ के बारे में बातचीत होगी।
बीएस येड्डीयुरप्पा ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के साथ उनकी इस मुलाकात में महादायी के मुद्दे पर भी विस्तृत चर्चा हुई। यह विवाद कर्नाटक, महाराष्ट्र एवं गोवा तीनों राज्यों के बीच है। चर्चा से दोनों प्रदेशों के बीच लम्बे समय से चली आ रही इस समस्या का शीघ्र ही निदान होगा। इसके साथ ही बहुत समय से लंबित कृष्णा नदी जल बंटवारे के मुद्दे पर भी चर्चा की गई। मुख्यमंत्री येडियुरप्पा ने कहा कि हमने पहले ही पड़ोसी राज्यों के साथ जल बंटवारे के मुद्दे पर चर्चा की है तथा इस मामले को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संज्ञान में भी लाया गया है।
छह सितंबर को मंत्रिमंडल की अगली बैठक में महादायी तथा कृष्णा नदी विवाद पर चर्चा होगी, जिस विवाद पर पहले ही न्यायालय निर्णय कर चुका है। राज्य में बाढ़ राहत कार्यों के लिए केन्द्र की ओर से धनराशि जारी किये जाने के मुद्दे का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री शुक्रवार को राज्य के दौरे पर आ रहे हैं उस समय इस बारे में उनको एक और ज्ञापन सौंपा जाएगा। इसके साथ ही बाढ़ के गंभीर हालात से निपटने के लिए राज्य सरकार की ओर से उठाये गये कदमों के बारे में भी प्रधानमंत्री को जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि केन्द्र की ओर से शीघ्र ही बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए धनराशि मिलने की संभावना है। महाराष्ट्र के दौरे पर मुख्यमंत्री के साथ राज्य के गृहमंत्री बसवराज बोम्मई तथा उप मुख्यमंत्री अश्‍वत्थ नारायण भी थे।