राजग सरकार का बड़े नेताओं को अपनाने का प्रयास बेचैन करने वाला : ओवैसी

हैदराबाद/भाषा। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि राजग सरकार के बी. आर. आम्बेडकर जैसे बड़े नेताओं को अपनाने का प्रयास बेचैन करने वाला है। हैदराबाद से सांसद ने ट्विटर पर कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के नायकों ने अपनी जिंदगियों में ऐसे काम कम ही किए हैं जिससे उनकी वार्षिक जयंती मनाई जाए, लेकिन मौलाना अबुल कलाम आजाद और बाबा साहेब हमारे लिए बहुत मायने रखते हैं।
एक अन्य ट्वीट में ओवैसी ने दावा किया कि बिहार के उपचुनाव और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में राजनीतिक बढ़त हासिल करने वाली उनकी पार्टी प्रभावी प्रतिनिधित्व देगी। उन्होंने कहा, राजनीतिक सशक्तिकरण और उचित हिस्सेदारी की मांग करना चुनावी खुदकुशी नहीं है। हमारा मंच व्यावहारिक है। हम प्रभावी प्रतिनिधित्व देने का वादा करते हैं और देते भी हैं। वह मीडिया में आई कुछ खबरों का हवाला दे रहे थे, जिसमें कहा गया है कि धर्मनिरपेक्ष पार्टियों में मुस्लिम समुदाय का अब भरोसा नहीं रहा और इस वजह से ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को आगे बढ़ाने का मौका मिल रहा है।