अस्पताल में भर्ती घायल लोग. फोटो: एएनआई.
अस्पताल में भर्ती घायल लोग. फोटो: एएनआई.

कोलकाता/भाषा। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि राज्य के उत्तरी 24 परगना जिले में एक मंदिर के पास शुक्रवार को भगदड़ जैसी स्थिति हो जाने के कारण कम से कम छह लोगों की मौत हो गई तथा 20 से अधिक लोग घायल हो गए। बनर्जी ने कछुआ लोकनाथ मंदिर के पास भगदड़ की स्थिति में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा, इस बार कछुआ लोकनाथ मंदिर में भारी भीड़ जमा हुई थी। तड़के सुबह बारिश होने लगी जिसके कारण लोग बांस के अस्थायी स्टॉलों में छुपने की कोशिश करने लगे। भारी बारिश के कारण बांस के स्टॉल टूट गए। वहां जगह बहुत ही संकरी है और हड़बड़ी में कुछ लोग मंदिर के पास के तालाब में गिर गए। इससे वहां भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गई

बनर्जी ने राष्ट्रीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में संवाददाताओं से कहा कि दो लोगों की मौत हो गई तथा कई लोग घायल हुए हैं। घायलों में दो लोगों की स्थिति नाजुक है। हालांकि बाद में आईं रिपोर्टों में बताया गया कि छह लोगों की मौत हो गई। घायलों को इसी अस्पताल में भर्ती किया गया है और ममता उनकी खैरियत पूछने यहां आईं। उन्होंने कहा कि घटनास्थल पर राहत एवं बचाव कार्य जारी है। वरिष्ठ मंत्रियों को बारासात अस्पताल, आरजी कर चिकित्सा महाविद्यालय और बशीरहाट के एक अस्पताल में भेजा गया है।

बनर्जी ने कहा, ‘राहत एवं बचाव अभियान अभी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। मैं निजी स्तर पर स्थिति की निगरानी कर रही हूं।’ गंभीर रूप से घायलों को एक लाख रुपए तथा मामूली तौर पर घायल हुए लोगों को 50 हजार रुपए का मुआवजा मिलेगा। उल्लेखनीय है कि हर साल इस दिन बड़ी संख्या में लोग लोकनाथ ब्रह्मचारी का जन्मदिन मनाने के लिए कछुआ लोकनाथ मंदिर में जमा होते हैं।