सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

श्रीनगर/भाषा। कश्मीर में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा शनिवार से बहाल किए जाने की संभावना है। जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के केंद्र के फैसले के बाद मोबाइल सेवा पर रोक लगा दी गई थी। इस तरह, 68 दिन के बाद सेवा फिर से बहाल होगी।

अधिकारियों ने शुक्रवार को इस बारे में बताया। उन्होंने साफ कर दिया कि घाटी में इंटरनेट सेवा बहाल किए जाने के लिए उपभोक्ताओं को कुछ और समय तक इंतजार करना होगा।

अधिकारियों ने कहा कि फैसला किया गया है कि आरंभ में पोस्टपेड मोबाइल सेवा बहाल की जाएगी और प्रीपेड सेवा बाद में शुरू की जाएगी। उन्होंने जोर दिया कि पोस्टपेड मोबाइल सेवा के लिए उपभोक्ताओं को समुचित सत्यापन भी कराना होगा।

घाटी में 66 लाख मोबाइल उपभोक्ता हैं जिनमें से तकरीबन 40 लाख उपभोक्ताओं के पास पोस्टपेड सुविधा है। पर्यटकों के लिए घाटी को खोले जाने का परामर्श जारी करने के दो दिन बाद यह निर्णय हुआ है। पर्यटन से जुड़े संगठनों ने प्रशासन से अनुरोध कर कहा था कि मोबाइल फोन काम नहीं करेंगे, तो कोई भी पर्यटक घाटी नहीं आना चाहेगा।

लैंडलाइन सेवा आंशिक तौर पर 17 अगस्त को बहाल की गई थी और चार सितंबर तक करीब सभी 50,000 लैंडलाइनों को बहाल करने की घोषणा की गई। जम्मू में संचार-व्यवस्था कुछ दिन के भीतर ही बहाल कर दी गई थी और मोबाइल इंटरनेट सेवा भी मध्य अगस्त में चालू कर दी गई। हालांकि, दुरुपयोग के बाद मोबाइल फोन पर इंटरनेट सेवा 18 अगस्त को रोक दी गई थी।