सेना द्वारा जारी की गई तस्वीर
सेना द्वारा जारी की गई तस्वीर

नई दिल्ली/भाषा। संशोधित नागरिकता कानून को लेकर पूर्वोत्तर में जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच सेना ने शनिवार को लोगों को सावधान किया कि वे सुरक्षा बलों के खिलाफ फर्जी खबरों के झांसे में न आएं।

सेना ने कई सोशल मीडिया खातों के स्क्रीनशॉट का एक कोलाज पोस्ट किया है और कहा है कि ये सुरक्षा बलों के खिलाफ गलत खबरें फैला रहे हैं। इन पोस्टों में सेना पर प्रदर्शनकारियों पर अत्याचार करने के झूठे आरोप लगाए गए हैं।

भारतीय सेना ने इन आरोपों पर प्रतिक्रिया देते अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है, ‘कृपया गलत सूचना फैलाने से बचिए। कुछ (लोग) गलत इरादे से सोशल मीडिया पर अफवाह फैला रहे हैं। ऐसी फर्जी खबरों से सावधान रहें।’

संसद में नागरिकता (संशोधन) विधेयक पारित होने के बाद पूर्वोत्तर में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला।