लद्दाख में धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस
लद्दाख में धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

लेह/भाषा। जम्मू-कश्मीर के विभाजन के बाद केंद्र शासित प्रदेश बनने वाले लद्दाख ने पूरे उमंग के साथ गुरुवार को स्वतंत्रता दिवस मनाया। भाजपा के स्थानीय सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा कि क्षेत्र को ‘कश्मीर से आजादी’ मिल गई।

जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने को लेकर लोकसभा में अपने भाषण से तारीफें बटोरने वाले सांसद को स्थानीय लोगों के साथ नृत्य करते और ड्रम बजाते देखा गया।

नामग्याल ने पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव के साथ भाजपा के स्थानीय कार्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद-370 के तहत मिले विशेष दर्जे को पांच अगस्त को निरस्त कर दिया था और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया था जो 31 अक्टूबर को अस्तित्व में आएंगे।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र को ‘कश्मीर से आजादी’ मिल गई है और यह जश्न लद्दाख के विकास का ‘महज एक ट्रेलर’ है। ‘केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख का पहला स्वतंत्रता दिवस’ लिखे हुए कई बैनर इस खूबसूरत कस्बे की सड़कों पर लगे हुए नजर आए।

नामग्याल ने कहा, हमने ‘दमन’ और ‘सुरना’ बजा कर पारंपरिक लद्दाखी तरीके से स्वतंत्रता दिवस मनाने का फैसला किया।