सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

ग्वालियर/दक्षिण भारत। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में जज के बंगले पर तैनात होमगार्ड के एक जवान ने आत्महत्या कर ली। बताया गया है कि जवान कुछ दिनों से परेशान था। साथ ही उसे तीन महीने से वेतन नहीं मिला था। जवान ने जज के बंगले पर ही फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।

मृतक जवान का नाम रायसिंह यादव (52) है जो भिंड जिले के बरोली का निवासी था। वह पिछले करीब ढाई दशकों से बतौर होमगार्ड जवान नौकरी कर रहा था। ड्यूटी पर रहते खुदकुशी की खबर से महकमे में हड़कंप मच गया। सूचना के बाद सीएसपी मुनीस राजौरिया, टीआई नरेश यादव, महेश शर्मा मौके पर पहुंचे। जवान का शव फंदे से लटकता हुआ पाया गया।

ड्यूटी के दौरान लगाया फंदा
रायसिंह यादव जिस सरकारी बंगला नं. 47 पर तैनात था, वह बाल भवन के पीछे स्थित है। एक रिपोर्ट के अनुसार, जवान रायसिंह शुक्रवार रात 9 बजे ड्यूटी पर आया। उसे यहां अगले दिन सुबह 6 बजे तक तैनात रहना था, लेकिन इसी दौरान उसने आत्महत्या कर ली। दूसरे दिन माली आया तो उसने रायसिंह के शव को फंदे से लटकता हुआ पाया। उसने इस बात की सूचना जज जाकिर हुसैन को दी। उन्होंने पुलिस को खबर दी तो अधिकारी मौके पर पहुंचे।

रिपोर्ट के अनुसार, फोरेंसिक विशेषज्ञों ने लाश की तलाशी ली और एक सुसाइड नोट बरामद किया। हालांकि उसमें क्या लिखा है, इस बात की जानकारी नहीं दी गई है। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

मानसिक रूप से था परेशान
इस संबंध में माली ने पुलिस को बताया कि रायसिंह कुछ दिनों से मानसिक रूप से परेशान था। उसकी जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा कर लिया था। बताया कि जवान को तीन महीने से वेतन भी नहीं मिला था। इन सबके कारण वह काफी तनावग्रस्त थ। रायसिंह के तीन बच्चे हैं।