आईटीबीपी द्वारा ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की गई एक तस्वीर
आईटीबीपी द्वारा ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की गई एक तस्वीर

हिंडन/भाषा। भारतीय वायुसेना के 87वें स्थापना दिवस पर मंगलवार को हिंडन बेस पर हुए कार्यक्रम में बालाकोट हवाई हमले में शामिल दो स्क्वॉड्रन को प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने 51 स्क्वॉड्रन और 9 स्क्वॉड्रन को फरवरी में पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविरों पर हवाई हमले में उनकी भूमिका के लिए सम्मानित किया।

बालाकोट अभियान का हिस्सा रहे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान और अन्य लड़ाकू विमानों के पायलटों ने फ्लायपास्ट में हिस्सा लिया।

फरवरी में पाकिस्तान से आसमान में आमना-सामना होने पर वर्धमान ने दुश्मन के एक विमान को मार गिराया था। इसके बाद उन्हें पाकिस्तान ने तीन दिन तक बंधक बनाकर रखा था।

भारतीय वायुसेना की स्थापना आठ अक्टूबर 1932 को हुई थी। हर वर्ष इस दिन हिंडन बेस में वायुसेना दिवस मनाया जाता है। इस कार्यक्रम में वायुसेना प्रमुख और तीनों सशस्त्र बलों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहते हैं। वायुसेना ने कई महत्वपूर्ण युद्धों और ऐतिहासिक मिशनों में अहम भूमिका निभाई है।