भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी
भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी

हैदराबाद/भाषा। भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने बुधवार को कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) देश में रहने वाले मुसलमानों को किसी भी तरह से प्रभावित नहीं करेगा और यह उन धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए लाया गया है जो तीन पड़ोसी देशों से आए हुए हैं।

हैदराबाद विश्वविद्यालय में ‘नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019: समकालीन राजनीति से परे एक ऐतिहासिक अनिवार्यता’ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में स्वामी ने सीएए पर गलत जानकारियां फैलाए जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने विपक्षी कांग्रेस नेताओं को इस मामले पर सार्वजनिक बहस के लिए आमंत्रित किया है।

उन्होंने कहा, मैं कांग्रेस के लोगों को मेरे साथ बहस करने की चुनौती देता हूं। वे टेलीविजन पर (कानून के खिलाफ) जो बात कह रहे हैं, वे सभी बकवास हैं। उन्होंने कहा, भारतीय नागरिक के तौर पर भारत में रहने वाले मुसलमानों को इससे डरने की कोई जरूरत नहीं है। कोई उनसे नागरिकता नहीं छीन सकता।