भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा
भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा

हैदराबाद/भाषा। भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अनुच्छेद-370 को हटाने के फैसले का समर्थन नहीं करने पर कांग्रेस की आलोचना की। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस हमेशा वोटबैंक की राजनीति में शामिल रही है जबकि वह जानती थी कि यह अनुच्छेद राष्ट्रहित में नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘मोदीजी ने एक राष्ट्र, एक विधान और एक निशान को महसूस किया, लेकिन कांग्रेस इसका विरोध क्यों कर रही है, जबकि वह कहती है कि अनुच्छेद-370 अस्थायी है।’

एक जनसभा में नड्डा ने कहा, अगर अनुच्छेद-370 अच्छा था तो इसे स्थायी क्यों नहीं बनाया? आपके पास एक समय 400 से अधिक सांसद थे। उन्होंने कहा कि बंटवारे के बाद जो लोग पाकिस्तान से हैदराबाद आए वे नेता बन गए, लेकिन जिन्होंने जम्मू-कश्मीर को अपना घरा बनाया वे पार्षद भी नहीं बन सकते। अब अनुच्छेद-370 खत्म करने से अनुसूचित जातियों और जनजातियों के लिए सीटें होंगी।