कुमारी शैलजा
कुमारी शैलजा

नई दिल्ली/भाषा। हरियाणा विधानसभा चुनाव से कुछ हफ्ते पहले कांग्रेस ने अपनी राज्य इकाई के नेताओं की अंतर्कलह को दूर करने का प्रयास करते हुए बुधवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा को प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री भपेंद्र सिंह हुड्डा को विधायक दल का नेता नियुक्त किया।

सोनिया गांधी की करीबी मानी जाने वाली शैलजा ने अशोक तंवर का स्थान लिया है। दूसरी तरफ़, हुड्डा ने किरण चौधरी का स्थान लिया है। हुड्डा को चुनाव प्रबंधन समिति का अध्यक्ष भी बनाया गया है। हरियाणा में अक्टूबर के आखिर में चुनाव प्रस्तावित हैं।

हरियाणा के कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने संवाददाताओं को बताया कि शैलजा को प्रदेश अध्यक्ष और हुड्डा को विधायक दल का नेता नियुक्त किया गया है। आजाद ने यह भी स्वीकार किया कि इन नियुक्तियों में विलंब हुआ है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि ‘देर आए, दुरुस्त आए।’

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी वाले संवाददाता सम्मेलन में आजाद ने शैलजा और हुड्डा के लंबे राजनीतिक अनुभव का जिक्र किया और उम्मीद जताई कि दोनों के नेतृत्व में कांग्रेस आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर देगी।

उन्होंने बतौर मुख्यमंत्री हुड्डा की उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके कार्यों और अनुभव को देखते हुए चुनाव के प्रबंधन की जिम्मेदारी उन्हें दी गई है।