लेखिका अमृता प्रीतम की 100वीं जयंती पर बनाया गया गूगल डूडल
लेखिका अमृता प्रीतम की 100वीं जयंती पर बनाया गया गूगल डूडल

नई दिल्ली/भाषा। सर्च इंजन गूगल ने कवयित्री एवं लेखिका अमृता प्रीतम की 100वीं जयंती पर शनिवार को डूडल बनाकर उन्हें याद किया।

पंजाबी कविता ‘अज्ज आखां वारिस शाह नूं’ के लिए मशहूर एवं 20सदीं की जानीमानी लेखिका का जन्म 31 अगस्त, 1919 को पंजाब प्रांत के गुजरांवाला में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है। वे बंटवारे के बाद भारत आ गई थीं।

डूडल में प्रीतम पंजाबी सलवार सूट पहने, हाथ में डायरी लिए उससे कलम पर कुछ लिखती नजर आ रही हैं और उनके पास में गुलाब का एक गुच्छा पड़ा है।

प्रीतम की 1936 में करीब 17 वर्ष की उम्र में किताब छप गई थी। ‘ब्लैक रोज’, ‘रसीदी टिकट’ सहित उनकी कई किताबों का अंग्रेजी में अनुवाद किया गया।

उनकी मशहूर किताब ‘पिंजर’ पर 2003 में फिल्म भी बनाई गई और इसे कई पुरस्कार भी मिले। प्रीतम को साहित्य अकादमी पुरस्कार और पद्म विभूषण सहित साहित्य जगत में उनके योगदान के लिए कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।