बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा
बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का सोमवार को दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे 82 साल के थे। कई दिनों से उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं था।

मिश्रा तीन बार राज्य के मुख्यमंत्री रहे। इसके अलावा वे केंद्र में भी कैबिनेट मंत्री रहे। उनके भाई ललित नारायण मिश्रा भी इंदिरा गांधी के शासन के दौरान केंद्र में मंत्री रहे।

जगन्नाथ मिश्रा राजनीति में आने से पहले बिहार विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर थे। उन्होंने कई किताबें भी लिखीं। बाद में, उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी और राकांपा तथा जनता दल (यू) में शामिल हो गए।

जगन्नाथ मिश्रा बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में आरोपी थे लेकिन हाल में रांची की एक अदालत ने उन्हें बरी कर दिया था। मिश्रा के निधन का समाचार मिलने के बाद बिहार में विभिन्न दलों के राजनेताओं और कार्यकर्ताओं ने शोक व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि जगन्नाथ मिश्रा एक जाने-माने राजनीतिज्ञ और शिक्षाविद थे। उनके निधन से न केवल बिहार को, बल्कि पूरे देश को अपूरणीय क्षति हुई है।