इसरो के ट्विटर अकाउंट पर जारी तस्वीर
इसरो के ट्विटर अकाउंट पर जारी तस्वीर

बेंगलूरु/भाषा। चंद्रयान-2 मिशन के शनिवार को चांद पर उतरने के अत्यंत महत्वपूर्ण घटनाक्रम से पहले इसरो में लोगों के मन में तमाम तरह के भाव उमड़ रहे हैं। यहां सभी चंद्रयान-2 के चंद्रमा पर सफलतापूर्वक उतरने के लिए प्रार्थना कर रहे हैं।

यूं तो लोगों के मन में थोड़ी फिक्र और थोड़ी उत्सुकता है लेकिन बेंगलूरु स्थित इसरो के मुख्यालय में अधिकारी ‘विक्रम’ मॉड्यूल के शुक्रवार को आधी रात के बाद या शनिवार तड़के चंद्रमा की सतह पर उतरने को लेकर पूरी तरह आशान्वित हैं।

मिशन से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बृहस्पतिवार को कहा, ‘सब मौन साधे हैं। मैं भी चुप हूं। अब मिशन पूरा हो जाए, बस।’

अधिकारी का कहना था, ‘हर एक के मन में बस यही बात आ रही है कि अंतरिक्ष यान और लैंडर विक्रम में क्या चल रहा होगा। आइए, सभी चंद्रयान की सफल सॉफ्ट-लैंडिंग की प्रार्थना करें।’

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के सिवन ने हाल ही में कहा था कि अंतरिक्ष एजेंसी ने मिशन की सफलता के लिए मानवीय तरीके से जो भी संभव है, वह सबकुछ किया है। शीर्ष अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने भी इस महत्वाकांक्षी परियोजना की कामयाबी को लेकर पूर्ण विश्वास व्यक्त किया है।

करीब एक दशक से पहले चंद्रयान-1 मिशन की कमान संभालने वाले इसरो के पूर्व अध्यक्ष जी माधवन नायर ने कहा, ‘यह यादगार घटनाक्रम बनने जा रहा है और हम सभी इसे लेकर आशान्वित हैं। मुझे विश्वास है कि यह शत प्रतिशत सफल होगा।’