अखिलेश यादव एवं मायावती
अखिलेश यादव एवं मायावती

बलिया/भाषा। बसपा सांसद अफजाल अंसारी ने दावा किया है कि पार्टी मुखिया मायावती ने सपा से अपनी राहें अलग करने का संकेत देते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को अपनी कमियों से सीखने की नसीहत दी है।

गाजीपुर से बसपा सांसद अंसारी ने मंगलवार को कहा कि बसपा अध्यक्ष मायावती ने कल दिल्ली में हुई समीक्षा बैठक में लोकसभा चुनाव में प्रदर्शन को लेकर विचार विमर्श किया।

उन्होंने बताया कि मायावती ने सपा से गठबंधन तोड़ने के संकेत देते हुए बसपा कार्यकर्ताओं को उत्तर प्रदेश में 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव अपने बलबूते पर लड़ने की तैयारी करने की हिदायत दी है।

अंसारी के मुताबिक, मायावती का कहना था कि सपा अध्यक्ष अखिलेश ने अपने अंदर बदलाव किया है, लेकिन उनको अभी और परिवर्तन लाना होगा। अखिलेश को अपनी कमियों से सीखने की जरूरत है।

बसपा सांसद ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष ने लोकसभा चुनाव में सपा के खराब प्रदर्शन पर अफसोस जताते हुए कहा कि बगैर समझौते के भी सपा जिन सीटों पर चुनाव में जीत हासिल करती रही है, उन सीटों पर आधार मतों का बिखराव होने के कारण वह पराजित हुई।

अंसारी के मुताबिक, मायावती ने यह भी कहा कि सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव की जीत के लिए भाजपा ने ही उन्हें वाकओवर दे दिया और इसी वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहां कोई चुनावी सभा नहीं की।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY

8 + 12 =