इमरान खान
इमरान खान

नई दिल्ली/इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। भारतीय वायुसेना के पायलट को हिरासत में लेने के बाद चौतरफा दबाव का सामना कर रहे पाकिस्तान के तेवर नरम पड़े हैं। उसने कहा है कि वह शुक्रवार को उन्हें रिहा कर देगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में घोषणा की है कि भारतीय पायलट को शुक्रवार को रिहा किया जाएगा। इसे भारत की बहुत बड़ी कूटनीतिक जीत माना जा रहा है।

बता दें कि 27 फरवरी को भारतीय हवाई क्षेत्र में घुसे पाकिस्तानी विमानों को खदेड़ने के लिए वायुसेना ने जवाबी कार्रवाई की थी। इसी संघर्ष में भारत को एक विमान का नुकसान हुआ और पायलट को पीओके में मौजूद पाकिस्तानी फौज ने कैद कर लिया। उसके बाद पाकिस्तान अपने बचाव के लिए कई पैंतरे आजमा रहा था लेकिन भारत ने सख्त रुख अपनाते हुए कहा था कि इस मामले में कोई सौदेबाजी नहीं होगी।

आखिरकार इमरान के सुर बदले और उन्हें भारतीय पायलट को रिहा करने का ऐलान करना पड़ा। माना जा रहा है कि इससे पाकिस्तान दुनिया को एक शांतिप्रिय देश होने का संदेश देना चाहता है, क्योंकि अब तक आतंकवाद फैलाकर वह एक गैर-जिम्मेदार देश के रूप में बदनाम हो चुका है।

माना जा रहा है कि भारतीय पायलट को रिहा करना पाक की मजबूरी है। जिनेवा संधि के तहत उसे पायलट को स्वदेश लौटाना होता, लेकिन इमरान इस मौके को भुनाकर स्वयं को ‘शांति पुरुष’ के रूप में पेश करना चाहते हैं। चूंकि पुलवामा हमले के बाद विश्व के शक्तिशाली राष्ट्र भारत के समर्थन में खड़े हुए थे और पाक अलग-थलग पड़ता जा रहा था।

LEAVE A REPLY

six − two =