प्रोफेसर आयुष्मान
प्रोफेसर आयुष्मान

नई दिल्ली/भाषा। बच्चों को महत्वपूर्ण औषधीय पौधों और घरेलू नुस्खों में उनके इस्तेमाल के बारे में जागरूक करने के लिए एक कॉमिक्स शृंखला शुरू की गई है जिसका मुख्य पात्र ‘प्रोफेसर आयुष्मान’ है।

राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड ने इस कॉमिक पत्रिका की संकल्पना की है और यह एलोवेरा, तुलसी, आंवला, गिलोय, नीम, अश्वगंधा और ब्राह्मी जैसे पौधों के बारे में जानकारी है।

आयुष मंत्रालय की तरफ से तैयार कराई गई यह कॉमिक्स मुफ्त में उपलब्ध रहेगी और विद्यालय राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड के पास इस आशय से अनुरोध कर सकते हैं।

यह कॉमिक्स आयुष की गतिविधियों जैसे आरोग्य मेला आदि में भी उपलब्ध रहेगी। आयुष के तहत भारतीय चिकित्सा पद्धतियों जैसे आयुर्वेद, योग, प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्धा और होम्योपैथी आती हैं।

आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने बीते सौ दिनों के दौरान अपने मंत्रालय की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए कहा, यह बच्चों के लिये एक रोचक कॉमिक पुस्तक है जो उन्हें प्राकृतिक चिकित्सा के बारे में सिखाएगी और यह भी बताएगी कि वे कैसे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।