दोपहिया वाहन
दोपहिया वाहन

नई दिल्ली/भाषा। देश का दोपहिया वाहनों का निर्यात चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-सितंबर की छमाही में चार प्रतिशत बढ़ गया। इस दौरान सबसे अधिक निर्यात बजाज आटो का रहा। वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के अनुसार पहली छमाही में बजाज आटो ने अफ्रीका और लातिनी अमेरिका सहित विभिन्न बाजारों को नौ लाख इकाइयों का निर्यात किया।

आंकड़ों के अनुसार पहली छमाही में दोपहिया (मोटरसाइकिल, स्कूटर और मोपेड) का निर्यात 17,93,957 इकाई रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 17,23,280 इकाई था। समीक्षाधीन अवधि में स्कूटरों का निर्यात 10.87 प्रतिशत घटकर 2,01,277 इकाई रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 2,25,821 इकाई था।

मोटरसाइकिलों का निर्यात इस दौरान 6.81 प्रतिशत बढ़कर 15,85,338 इकाई पर पहुंच गया, जो इससे पिछले साल की समान अवधि में 14,84,252 इकाई रहा था। वहीं दूसरी ओर मोपेड का निर्यात 44.41 प्रतिशत घटकर 7,342 इकाई रह गया जो एक साल पहले समान अवधि में 13,207 इकाई रहा था।

पुणे की कंपनी बजाज आटो का निर्यात 7.5 प्रतिशत बढ़कर 9,34,581 इकाई पर पहुंच गया। टीवीएस मोटर कंपनी का निर्यात 6.24 प्रतिशत बढ़कर 3,43,337 इकाई और होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया का निर्यात 23.09 प्रतिशत घटकर 1,74,469 इकाई रहा।

इंडिया यामाहा मोटर का निर्यात 21.38 प्रतिशत बढ़कर 1,56,058 इकाई रहा। घरेलू बाजार की अग्रणी कंपनी हीरो मोटोकॉर्प का निर्यात 12 प्रतिशत घटकर 92,823 इकाई रहा।

सुजुकी मोटरसाइकिल इंडिया का निर्यात 35.61 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 54,372 इकाई पर पहुंच गया। समीक्षाधीन अवधि में रॉयल एनफील्ड ने 22,956, पियोजियो वेहिकल्स ने 14,050 और महिंद्रा टू व्हीलर्स ने 297 इकाइयों का निर्यात किया।