सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। सस्ते डेटा प्लान, हैंडसेट की कम कीमत, वीडियो सेवाओं की बढ़ती लोकप्रियता और 4जी नेटवर्क की वजह से भारत में प्रति ग्राहक डेटा की औसत मासिक खपत बढ़कर 11 जीबी हो गई है। दूरसंचार उपकरण कंपनी नोकिया की बृहस्पतिवार को जारी रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

नोकिया की वार्षिक मोबाइल ब्राडबैंड इंडिया ट्रैफिक इंडेक्स (एमबिट) रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019 में देश में कुल डेटा का इस्तेमाल 47 प्रतिशत बढ़ा। 4जी का उपभोग बढ़ने से कुछ डेटा खपत बढ़ी है। कुल डेटा खपत में 4जी का हिस्सा 96 प्रतिशत है। वहीं इस दौरान 3जी डेटा की खपत में सबसे अधिक 30 प्रतिशत की गिरावट आई।

नोकिया इंडिया के मुख्य विपणन अधिकारी अमित मारवाह ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा, ‘दिसंबर, 2019 में औसत मासिक डेटा उपभोग प्रति उपभोक्ता 16 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि के साथ 11 गीगाबाइट (जीबी) पर पहुंच गया। 4जी नेटवर्क की ओर अद्यतन, डेटा का कम दाम, सस्ते स्मार्टफोन और वीडियो की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से डेटा का इस्तेमाल बढ़ा है।’

उन्होंने कहा कि भारत में डेटा का इस्तेमाल संभवत: वैश्विक स्तर पर सबसे अधिक है। इस मामले में भारत दुनिया के अन्य देशों मसलन चीन, अमेरिका, फ्रांस, दक्षिण कोरिया, जापान, जर्मनी और स्पेन से आगे है।