‘मेक इन इंडिया’ को अपनाएगी होंडा

मिलान/वार्ता। दुपहिया वाहन निर्माण की प्रमुख कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड भारत की भौगोलिक स्थिति और उपलब्ध कुशल श्रम बल का लाभ लेते हुए घरेलू बिक्री के साथ ही पूर्वी एशिया और यूरोपीय बाजारों में निर्यात के लिए भी देश में मोटरसाइकिल बनाएगी। कंपनी के बिक्री और विपणन विभाग के प्रमुख अधिकारी तथा वरिष्ठ उपाध्यक्ष यादविंदर सिंह गुलेरिया ने मंगलवार को यहॉं भारतीय मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कंपनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम के तहत देश में उत्पादन संयंत्र लगाएगी। इन संयंत्रों में प्रीमियम बाइक, मोटरसाइकिल और स्कूटर का उत्पादन होगा। पूर्वी एशिया और यूरोपीय बाजारों में प्रीमियम दुपहिया वाहनों की भारी मॉंग है। भारत की भौगोलिक स्थिति और कुशल श्रम बल को देखते हुए देश में उत्पादन संयंत्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। उन्होंने कहा कि भारत में भी प्रीमियम बाइक, मोटरसाइकिल और स्कूटरों की मॉंग बढ़ रही है। इन संयंत्रों से भारतीय उपभोक्ता तथा विदेशी बाजारों की मॉंग को पूरा किया जाएगा।
गुलेरिया ने बताया कि अगले वित्त वर्ष के अंत तक भारत में बिक्री डीलरों की संख्या 23 से बढ़ाकर 80 तक कर दी जाएगी। इन बिक्री केंद्रों पर होंडा के सभी दुपहिया उत्पाद बेचे जाएंगे। उन्होंने बताया कि इन सयंत्रों में बनने वाले सभी वाहन बीएस 6’ मानक के अनुरूप होंगे। इसलिए ये वाहन न केवल भारतीय बाजारों की मॉंग को पूरा करेंगे बल्कि विदेशों में भी बेचे जाएंगे।