कांग्रेस की अं​तरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी
कांग्रेस की अं​तरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को राकांपा प्रमुख शरद पवार से कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुलाकात की थी। इस मुलाकात के कुछ घंटों बाद सोनिया ने कहा कि वे महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन नहीं देंगी।

सोनिया गांधी और शरद पवार के बीच यह बैठक ऐसे समय में हुई जब महाराष्ट्र की सत्ता में हिस्सेदारी को लेकर शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच गतिरोध जारी है। हालांकि, पवार ने गांधी से मुलाकात के बाद इस मुद्दे पर सस्पेंस बनाए रखा।

बैठक के बाद अजीत पवार और प्रफुल्ल पटेल की मौजूदगी में राकांपा प्रमुख ने कहा, ‘राकांपा-कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का जनादेश दिया गया है। इसके अलावा, हमारे पास संख्याबल नहीं हैं। जिनके पास संख्याबल है, उन्हें ही सरकार बनानी चाहिए।’

बता दें कि पवार ने यह भी कहा कि वे मुख्यमंत्री पद की रेस में नहीं हैं। इसके अलावा, करीब आधे घंटे से ज्यादा चली दोनों नेताओं की बैठक को लेकर सूत्रों का कहना है कि इस दौरान वैकल्पिक सरकार बनाने की संभावनाओं पर बातचीत हुई। साथ ही, यदि शिवसेना, भाजपा के साथ गठबंधन से बाहर निकलती है, तो इस सूरत में उसे समर्थन पर भी चर्चा की गई।

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भाजपा 105 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी। उसकी सहयोगी शिवसेना को 56 सीटें मिलीं। इस तरह भाजपा-शिवसेना गठबंधन को सरकार निर्माण के लिए बहुमत मिल चुका है, लेकिन शिवसेना ‘ढाई साल के मुख्यमंत्री’ के फॉर्मूले पर अड़ी हुई है। चुनाव में राकांपा को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिलीं, जो बहुमत से दूर हैं।