बिआरित्ज/एएफपी
फ्रांस में जी-7 देशों के नेताओं की बैठक में हांगकांग की स्वायत्तता का समर्थन किया गया जो ब्रिटेन और चीन के बीच 1984 में हुए एक समझौते में तय हुआ था। साथ ही हांगकांग में शांति की अपील की गई जहां लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं।फ्रांस के बिआरित्ज शहर में जी-7 शिखर सम्मेलन के समापन पर जारी एक संयुक्त बयान में कहा गया, “जी-7 हांगकांग पर 1984 के चीन-ब्रिटेन समझौते के अस्तित्व और महत्व की पुष्टि करता है और हिंसा से बचने का आह्वान करता है।”

हांगकांग में बीजिंग समर्थित सरकार द्वारा प्रत्यर्पण विधेयक को पारित कराने के प्रयास के विरोध में दो महीने से भी अधिक समय से प्रदर्शन जारी हैं। विधेयक के विरोधी इसे हांगकांग की स्वायत्तता में एक बड़ी सेंध मान रहे हैं। पुलिस ने सोमवार को “बेहद हिंसक प्रदर्शनकारियों” को तितर-बितर करने के लिये पानी की बौछार का इस्तेमाल किया।