हमने विकास की परिभाषा बदली, लोगों को आकांक्षा और खुशहाली से जोड़ा : मोदी

0

चोटिला (राजकोट)। विकास की अवधारणा पर कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों की आलोचनाओं पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि पहले एक मोहल्ले में हैंडपंप लगाना विकास होता था लेकिन हमने विकास की परिभाषा बदल कर उसे लोगों की आशा-आकांक्षाओं और खुशहाली से जोड़ने का काम किया है।

चोटिला में ग्रीलफिल्ड हवाई अड्डे का शिलान्यास करते हुए प्रधानमंत्री ने यहां एक जनसभा में लोगों से सीधा सवाल किया, क्या विकास जरूरी है? क्या विकास से जीवन में बदलाव आता है? क्या विकास से उनकी संतान का जीवन बदल रहा है? लोगों ने इसका जवाब !!हां!! में दिया। मोदी ने कहा, आज गरीब से गरीब आदमी से पूछो; जिसके पास घर नहीं है, उनसे पूछो कि क्या घर चाहिए? वह कहेगा कि घर चाहिए? और अगर किसी को घर देना है, तब यह विकास के जरिये ही संभव है। उन्होंने कहा कि पहले जब भाजपा की सरकार नहीं थी तब हैंडपंप लगाना विकास की परिभाषा में आता था। किसी नेता ने किसी मोहल्ले में एक हैंडपंप लगा दिया और फिर दो-तीन चुनाव तक लोगों से इसी आधार पर चुनाव जिताने का आग्रह करता रहता था।

मोदी ने कहा कि हमने विकास की परिभाषा बदलने का काम किया है। हम नर्मदा का पानी इस क्षेत्र में पाइपलाइन के जरिये लाये हैं। नर्मदा का पानी इस सूखी धरती को नंदन वन बनाने का काम कर रही है। इसका सकारात्मक प्रभाव सिर्फ ग्रामीण और कषि क्षेत्र में ही नहीं हो रहा है बल्कि आने वाले दिनों में नर्मदा के पानी के कारण यह औद्योगिक केन्द्र के रूप में उभरेगा, शिक्षा का धाम बनेगा।

मोदी ने आज सुबह प्रसिद्ध द्वारकाधीश मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ अपनी दो दिन की गुजरात यात्रा की शुरूआत की। वहां ओखा से बेट द्वारका तक सिग्नेचर ब्रिज परियोजना सहित अन्य परियोजनाओं शिलान्यास करने के बाद लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, विकास का सपना सवा सौ करोड़ भारतीयों का है और मैं इसमें रंग भर रहा हूं। द्वारका में चार राष्ट्रीय राजमार्गों और अन्य परियोजनाओं के शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जहाजरानी और जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जहाजरानी और रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख एल. मंडाविया भी मौजूद थे।

कार्यक्रम के बाद गडकरी ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने द्वारका, गुजरात में विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गों की आधारशिला रखी। इसमें गादु-पोरबंदर-द्वारका मार्ग को चार लेन का बनाना और एनएच-51 पर बेट द्वारका से ओखा के बीच केबल धारित सिग्नेचर ब्रिज भी शामिल है।

LEAVE A REPLY