वर्तमान में अभी केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रधानमंत्री समेत 73 सदस्य हैं और कैबिनेट में मंत्रियों की संख्या 81 से अधिक नहीं हो सकती। एक तरफ कैबिनेट में कुछ रिक्तियां हैं तो दूसरी तरफ कुछ वरिष्ठ मंत्री दो मंत्रालयों का प्रभार संभाले हुए हैं। अरुण जेटली के पास वित्त मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय है तो हर्षवर्द्धन, स्मृति इरानी और नरेन्द्र सिंह तोमर के पास भी अतिरिक्त प्रभार है।नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को सुबह दस बजे अपनी मंत्रिपरिषद में फेरबदल करेंगे जिसमें कुछ सहयोगी दलों समेत कुछ नए चहरे शामिल हो सकते हैं। केंद्रीय मंत्रिमंडल में रविवार को सुबह दस बजे फेरबदल होगा। वर्ष २०१४ के मई माह में मोदी सरकार के केंद्र में सत्ता संभालने के बाद यह मंत्रिमंडल में तीसरा फेरबदल होगा। अधिकारी ने कहा, रविवार को प्रात: करीब दस बजे राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह के लिए प्रक्रिया (तैयारी) शुरु हो गई है। मंत्रिमंडल में होने वाले फेरबदल से पहले पांच मंत्री राजीव प्रताप रूडी, संजीव कुमार बालियान, फग्गन सिंह कुलस्ते, महेंद्र नाथ पांडे और बंडारू दत्तात्रेय इस्तीफा दे चुके हैं। भाजपा सूत्रों ने बताया कि इनके अलावा दो कैबिनेट मंत्रियों की ओर से भी इस्तीफे की पेशकश करने की बात सामने आई है जिनमें उमा भारती और कलराज मिश्रा के नाम की चर्चा है। हालांकि, उमा ने अपने ट्वीट में लिखा, कल से चल रही मेरे इस्तीफे की खबरों पर मीडिया ने प्रतिक्रिया पूछी। इस पर मैंने कहा कि मैंने यह सवाल सुना ही नहीं, न सुनूंगी, न जवाब ही दूंगी। अपने अगले ट्वीट में वह लिखती हैं कि इस बारे में या तो राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह या वे जिसको नामित करें, वही बोल सकते हैं। मेरा इस पर बोलने का अधिकार नही है। ऐसी अटकलें हैं कि भाजपा महासचिव भूपेन्द्र यादव, पार्टी उपाध्यक्ष विनय सह्रस्त्रबुद्धे के अलावा प्रह्लाद पटेल, सुरेश अंगडी, सत्यपाल सिंह और प्रह्लाद जोशी को भी मंत्री बनाया जा सकता है। बिहार में भाजपा के साथ गठबंधन सरकार बनाने वाली जदयू के भी मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावना है और जदयू की ओर से आरसीपी सिंह और संतोष कुमार के मंत्री बनाए जाने की चर्चा है। जदयू राजग में शामिल हो चुकी है। अन्नाद्रमुक नेता एम थम्बीदुरै ने गुरुवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी। ऐसी संभावना है कि अगर अन्नाद्रमुक केंद्र सरकार में शामिल होने का फैसला करती है तो इस पार्टी से थम्बीदुरै के अलावा पी वेणुगोपाल और वी मैत्रेयन इसमें शामिल हो सकते हैं। हालांकि अन्नाद्रमुक ने इसकी अभी तक कोई पुष्टि नहीं की है।

LEAVE A REPLY

four + 4 =