समझौता एक्सप्रेस
समझौता एक्सप्रेस

जैसलमेर/वार्ता। भारत पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के कारण समझौता एक्सप्रेस बंद होने की अफवाह के बीच पाकिस्तान गए भारतीय यात्रियों के वापस लौटने की संख्या में भारी उछाल देखा जा रहा हैं। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान गये भारतीय यात्रियों के लौटने की तादात इतनी ज्यादा हैं कि यात्रियों को थार एक्सप्रेस का रेल टिकिट लेने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं कई यात्रियों के वीजा अवधि समाप्त होने के बाद उन्हें वीजा एक्सटेंशन में भी काफी दिक्कतें आ रही हैं।

उधर भारत से पाकिस्तान जाने वालों की संख्या में भारी गिरावट देखी गई है। असल में पाकिस्तान में निवास कर रहे हिन्दुओं एवं भारत से पाकिस्तान अपने रिश्तेदार से मिलने गए भारतीय यात्रियों के वापस लौटने की होड़ मची हुई हैं इन्हें यह भय सता रहा हैं कि भारत-पाकिस्तान के बीच इन दिनों चल रहे तनाव की स्थिति के बीच थार एक्सप्रेस बंद हो जाएगी और उनका भारत लौटना मुश्किल हो जाएगा।

जानकारी के अनुसार पुलवामा आतंकी हमले के बाद 16 फरवरी को मुनाबाव के रास्ते पाकिस्तान गई थार एक्सप्रेस में 429 यात्री पाकिस्तान गए जबकि 417 भारत आए लेकिन इस बार २३ फरवरी को पाकिस्तान से आने वाले यात्रियों की संख्या में एकदम उछाल आ गया तथा यह आंकड़ा 569 तक पहुंच गया जबकि भारत से जाने वाली यात्रियों गिर कर 326 पर आ गई।

बताया जाता हैं कि पाकिस्तान से इन दिनों आ रही थार एक्सप्रेस में अतिरिक्त कोच नहीं लगाए जा रहे हैं जितनी गाड़ी की क्षमता हैं पाकिस्तान द्वारा उतने ही रेल टिकिट जारी किए जा रहे हैं जबकि पाकिस्तान से भारत आने वाले यात्रियों की संख्या कई ज्यादा है।

थार एक्सप्रेस से पाकिस्तान से भारत पहुंचे जैसलमेर जिले के खुईयाला निवासी अलसर खान, जमेशर खान, राने खान आदि बताते हैं कि वे 25 जनवरी को पाकिस्तान में अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिये सीमा पार थार एक्सप्रेस से गए थे लेकिन जब उन्हें पता चला कि भारत व पाकिस्तान के बीच तनाव उत्पन्न हो गया हैं, रिश्ते बिगड़ गए हैं तब उन्होंने अपनी यात्रा बीच में ही समाप्त कर भारत आने का मन बनाया और वे एक महीने में ही भारत आ गए।

LEAVE A REPLY