सोशल मीडिया सांकेतिक तस्वीर
सोशल मीडिया सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली। इन दिनों वॉट्सअप पर साइबर ठग ब्लैक फ्राइडे सेल के नाम पर लोगों को लूटने के लिए जाल बिछा रहे हैं। कई जगह ब्लैक फ्राइडे कॉन्टेस्ट के नाम पर भी झांसा देने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए वॉट्सअप पर एक मैसेज पोस्ट कर फर्जी लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जाता है। इससे पहले यूजर्स को बताया जाता है कि ब्लैक फ्राइडे सेल के लिए दुनिया के जानेमाने ब्रांड के सामानों पर भारी छूट दी जा रही है।

इन मैसेज में लोगों को 90 प्रतिशत छूट तक का लालच देकर कहा जाता है कि वे मैसेज में दिए गए लिंक पर क्लिक कर इसका फायदा उठाएं। जब कोई यूजर उस पर क्लिक करता है तो वेबसाइट का पेज एक चर्चित ई-कॉमर्स वेबसाइ​ट जैसा मिलता है। लोग इसे ही असली वेबसाइट मानकर अपने आईडी-पासवर्ड और दूसरी महत्वपूर्ण जानकारी भर देते हैं।

इसके बाद उनसे डेबिट/क्रेडिट कार्ड वगैरह की जानकारी मांगी जाती है। दी गई प्रक्रिया पूरी होते ही यूजर का महत्वपूर्ण डेटा कहीं दूर बैठे साइबर ठग के पास पहुंच जाता है। इससे वह यूजर के डेटा का दुरुपयोग कर उसे नुकसान पहुंचा सकता है। विशेष अवसरों को ध्यान में रखकर साइबर ठग इस तरह से जाल बिछाते हैं कि उसकी हकीकत मालूम कर पाना बेहद मुश्किल होता है।

आपने अक्सर समाचार पत्रों में साइबर ठगी की खबरें पढ़ी होंगी। ऐसे में बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है। खरीदारी के दौरान केवल विश्वसनीय वेबसाइट्स का ही इस्तेमाल करना चाहिए। किसी भी भेजे गए लिंक से खरीदारी करने से बचें। इंटरनेट ने बेशक खरीदारी को काफी आसान कर हमारे लिए सुविधाएं पैदा की हैं, लेकिन यह क्षेत्र भी ठगों से पूरी तरह सुरक्षित नहीं है।

हाल में ऐसे कई मामले सामने आए हैं जब दूसरे देशों में बैठे ठगों ने सिर्फ कुछ क्लिक के जरिए भारत, अमेरिका और ब्रिटेन सहित कई देशों के नागरिकों को लाखों रुपए की चपत लगा दी। दिवाली के मौके पर भी ऐसे आॅफर के लालच में कई लोग अपनी रकम गंवा बैठे।

क्या न करें
अनजान लिंक पर क्लिक न करें। विश्वसनीय वेबसाइट से ही खरीदारी करें। फोन पर एटीम पिन/पासवर्ड आदि जानकारी न दें। ओटीपी साझा न करें। भारी छूट, लॉटरी और फर्जी कॉल के झांसे में न आएं।

LEAVE A REPLY