शशि थरूर
शशि थरूर

नई दिल्ली/(भाषा)। पुलवामा आतंकी हमले की वजह से विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच नहीं खेलने से जुड़ी मांग की पृष्ठभूमि में कांग्रेस नेता शशि थरूर ने शुक्रवार को कहा कि मैच नहीं खेलना आत्मसमर्पण करने से भी बुरा होगा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा सरकार पुलवामा हमले से जुड़ी अपनी कोताही से ध्यान भटकाना चाहती है।

थरूर ने ट्वीट कर कहा, ‘जिस वक्त करगिल युद्ध अपने चरम पर था, उस समय भारत ने विश्वकप में पकिस्तान के खिलाफ मैच खेला और जीता। इस बार मैच छोड़ना न सिर्फ दो अंक गंवाना होगा, बल्कि यह समर्पण करने से भी ज्यादा बुरा होगा क्योंकि यह हार बिना संषर्घ किए होगी।’

उन्होंने कहा, ‘हमारी सरकार ने पुलवामा हमले के बाद राष्ट्रीय शोक भी घोषित नहीं किया, अब वे उस मैच को रद्द करना चाहते हैं जो तीन महीने बाद है। क्या 40 जिंदगियां जाने का यही गंभीर उत्तर है?’ थरूर ने आरोप लगाया, ‘भाजपा संकट से निपटने में हुई अपनी कोताही से ध्यान भटकाना चाहती है। हमें दिखावे की राजनीति नहीं, बल्कि प्रभावी कार्रवाई की जरूरत है।’ दरअसल, कुछ महीने बाद ही इंग्लैंड में एकदिवसीय क्रिकेट विश्वकप होने वाला है।

LEAVE A REPLY