उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं कैबिनेट से बर्खास्त राजभर
उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं कैबिनेट से बर्खास्त राजभर

लखनऊ/दक्षिण भारत। लोकसभा चुनाव पूर्ण होने के बाद सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को बर्खास्त कर दिया है। बता दें कि मुख्यमंत्री ने राजभर को बर्खास्त करने के लिए राज्यपाल से सिफारिश की थी। ओमप्रकाश राजभर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्‍यक्ष हैं। वे उप्र सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्‍याण एवं दिव्‍यांग सशक्‍तीकरण मंत्री थे।

पिछले कई दिनों से वे लगातार बागी तेवर दिखा रहे थे। राजभर ने इस्तीफा देने की घोषणा कर दी थी। अब लोकसभा चुनाव में मतदान कार्य संपन्न होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी बर्खास्तगी के लिए कार्यवाही शुरू की। राजभर के जो समर्थक निगमों और परिषदों में थे, उन्हें भी हटा दिया गया है।

वहीं, राजभर ने कहा है कि वे मुख्यमंत्री योगी के फैसले का स्वागत करते हैं। राजभर ने कहा कि उन्हें पिछड़ों के अधिकारों के लिए लड़ने की कीमत चुकानी पड़ी है। भाजपा नेता भले ही पिछड़ों के लिए न बोलें, परंतु राजभर को ऐसा करने से नहीं रोका जा सकता।

राजभर ने इसे पिछड़े वर्ग के अधिकारों की लड़ाई करार देते हुए कहा कि उनके (भाजपा) के पास समय नहीं है। राजभर ने कहा कि ‘सबका साथ-सबका विकास’ की बात करते हो तो सबको दो। हक के लिए लड़ना गुनाह है तो गुनाह बार-बार करूंगा।

गौरतलब है कि राजभर ने कई बार भाजपा के खिलाफ बयान दिए। इसके अलावा लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ अपने प्रत्याशी भी उतार दिए। उन्होंने विरोधी दलों को समर्थन का ऐलान किया था। उन्होंने कई मौकों पर प्रदेश की योगी सरकार की आलोचना की। उन्होंने कहा कि सरकार को शिक्षा में सुधार को लेकर कोई जल्दबाजी नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार के पास 3.65 लाख खाली पदों को भरने का समय नहीं है।

राजभर ने कहा कि चुनाव से दो महीने पहले बताया होता तो कुछ होता। अब क्या, अब तीन साल का समय है, तैयारी करेंगे। उन्होंने कहा कि कल तक मैं अकेला था, आज तो करोड़ों लोग हैं। रण में राणा जैसे योद्धा का साथ हो तो उसको क्या दिक्कत? हक मांगना अगर बगावत है तो समझो हम बागी हैं। ओमप्रकाश राजभर ने लोकसभा चुनाव में भाजपा की हार और सपा-बसपा गठबंधन की जीत की बात कही थी।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY