वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ब़डे बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर अपने पिता के वर्ष २०१६ के चुनाव अभियान दल और रूस के अधिकारियों के बीच संभावित साठ-गांठ की जांच कर रही कांग्रेशनल समिति के सवालों का सामना करेंगे। यह जानकारी अधिकारियों ने दी है। सीनेट की न्यायिक समिति ने घोषणा की कि ३९ वर्षीय ट्रंप जूनियर बंद कमरे में जांचकर्ताओं के सवालों का सामना करने के लिए तैयार हो गए। इसके लिए अभी कोई तारीख नहीं बताई गई है। समिति के अध्यक्ष रिपब्लिकन चक ग्रैसले और डेमोक्रेट डियाने फीनस्टीन ने एक संयुक्त बयान में कहा कि ट्रंप के सबसे ब़डे पुत्र समिति द्वारा मांगे गए दस्तावेज भी उपलब्ध करवाने के लिए तैयार हो गए हैं। राष्ट्रपति ट्रंप के दामाद जेयर्ड कुशनेर ने भी जुलाई में इस मुद्दे पर इसी तरह से जानकारी दी थी। उन्होंने यह जानकारी प्रतिनिधि सभा और सीनेट की खुफिया समितियों को दी थी। जांच में शामिल सांसद ट्रंप के बेटे, दामाद और अन्य सहयोगियों के बयान सार्वजनिक तौर पर करवाना चाहते होंगे। उन्हें ऐसा करने के लिए कहा भी जा सकता है लेकिन ऐसा कहा नहीं गया। ट्रंप जूनियर और कुशनेर दोनों ही चुनाव प्रचार के दौरान राष्ट्रपति के बेहद करीब रहे हैं। उस दौरान दोनों के ही रूसी लोगों से कई संपर्क थे। उन्होंने किसी भी साठगांठ की बात से इनकार किया है।

LEAVE A REPLY