रमेश जरकीहोली के खिलाफ भाई सतीश ने खोल दिया मोर्चा

0

बेलगावी/दक्षिण भारत। कर्नाटक में एक वर्ष पुरानी कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन सरकार को गिराने के लिए तरह-तरह की बयानबाजी और हरकतों में लिप्त पूर्व मंत्री रमेश जरकीहोली के भाई और कर्नाटक के वन मंत्री सतीश जरकीहोली ने दावा किया है कि उनके भाई (रमेश) के पास राज्य सरकार की स्थिरता को प्रभावित करने के लिए पर्याप्त संख्या में विधायक नहीं हैं।

गुरुवार को यहां पत्रकारों से बात करते हुए सतीश जरकीहोली ने कहा, कर्नाटक में गठबंधन सरकार को गिराने के रमेश के प्रयास पूरी तरह से निरर्थक साबित होंगे। बेलगावी में रमेश जरकीहोली के करीबी कहे जाने वाले सभी विधायकों ने कहा कि उन्होंने हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनावों में कांग्रेस उम्मीदवारों के पक्ष में काम किया था।

उन्होंने कहा कि रमेश जरकीहोली ने राज्य सरकार को अपने बल पर अस्थिर करने के बारे में केवल झूठे बयान दिए हैं। सतीश जरकीहोली ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा, रमेश जरकीहोली लगातार अपने बयान बदल रहे हैं और केवल झूठी चेतावनी दे रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बेलगावी और चिक्कोड़ी लोकसभा सीटों पर तैनात कांग्रेस पर्यवेक्षकों ने रमेश जरकीहोली की पार्टी विरोधी गतिविधियों पर गौर किया है और उन्होंने हाई कमान को इस बारे में एक रिपोर्ट सौंपी है।

पार्टी हाईकमान के जल्दी ही रमेश के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की उम्मीद है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि रमेश ने अतीत में गठबंधन सरकार को गिराने की कोशिश की थी लेकिन वह असफल रहे थे।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY