भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। लोकसभा चुनाव में भाजपा एवं उसके नेतृत्व वाले राजग की प्रचंड जीत के बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों का आभार व्यक्त किया। भाजपा मुख्यालय में हजारों की तादाद में मौजूद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि आज देश के अंदर आजादी के बाद सबसे ऐतिहासिक विजय नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा को प्राप्त हुई है। यह हम सबके लिए गौरव की बात है।

शाह ने कहा कि यह देश की जनता की विजय है। यह भाजपा के 11 करोड़ भाजपा के कार्यकर्ताओं के कठिन परिश्रम की विजय है। यह विजय भाजपा की मोदी सरकार, जिसने 2014-2019 तक सबका साथ, सबका विकास की नीति से काम किया, उस नीति की विजय है। करोड़ों कार्यकर्ताओं ने इतने लंबे चुनाव अभियान में जो परिश्रम की पराकाष्ठा की, वो हमारी जीत का आधार बना।

शाह ने कहा कि पांच साल के अंदर नरेंद्र मोदी सरकार ने देश के 50 करोड़ गरीब परिवारों का जीवन स्तर उठाने के लिए आजादी के 70 साल के बाद पहली बार सार्थक कदम उठाए। करोड़ों गरीब परिवारों का आशीर्वाद उनका जनसमर्थन हमारी विजय का संबल बना है।

शाह ने कहा कि कई मायने में यह जीत ऐतिहासिक है। 50 साल के बाद पहली बार देश में पूर्ण बहुमत से शासन करने वाला प्रधानमंत्री, दोबारा पूर्ण बहुमत के साथ प्रधानमंत्री बनने जा रहा है। यह सम्मान हम सबके लोकप्रिय नेता, भाजपा के लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदीजी को मिला है।

शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के अंदर सपा-बसपा दोनों इकट्ठा हुए तो पूरे देश के मीडिया का कहना था कि उत्तर प्रदेश में क्या होगा? यह प्रचंड विजय दर्शाती है कि आने वाले दिनों में परिवारवादी पार्टियों का कोई महत्व नहीं रहने वाला है।

शाह ने कहा कि मैंने देश के कार्यकर्ताओं को कहा था कि हम 50 प्रतिशत की लड़ाई लड़ने के लिए चुनाव मैदान में हैं। आज मैं गौरव के साथ कह सकता हूं कि देश के 17 राज्यों में जनता ने 50 प्रतिशत से ज्यादा वोटों का आशीर्वाद भाजपा को दिया है।

शाह ने कहा कि एक ओर जनता ने मोदीजी के नेतृत्व में भाजपा को जिताया है। दूसरी ओर कांग्रेस को करारी हार देखनी पड़ी है। देश के 17 राज्यों में कांग्रेस को बिग जीरो मिला है। बंगाल के अंदर इतने जुल्म और अत्याचार के बाद भी 18 सीटें भाजपा ने जीती और पांच विधानसभा के चुनाव थे, 5 विधानसभा में से 4 विधानसभा भारतीय जनता पार्टी की झोली में आईं। यह बताता है कि आने वाले दिनों में बंगाल के अंदर भाजपा वर्चस्व स्थापित करने वाली है।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY