प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पिंपलगांव/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार ने आतंकवादी हमलों का जवाब देने के लिए पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत सरकारों की ‘कायराना’ नीति के विपरीत साहसिक कदम उठाए।

मोदी ने श्रीलंका में हुए आतंकवादी हमलों के एक दिन बाद महाराष्ट्र के नासिक में यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘पड़ोसी देश (श्रीलंका) में बम विस्फोट में सैकड़ों लोगों की मौत हो गई.. 2014 से पहले, भारत में भी मुंबई, दिल्ली, अयोध्या में सिलसिलेवार विस्फोट हुए।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘तब कांग्रेस-राकांपा सरकार ने क्या किया? वह सिर्फ शोक सभाएं करती थी और दुनिया में पाकिस्तान के नाम पर रोती रहती थी कि पाकिस्तान ऐसा करता है, पाकिस्तान वैसा करता है, लेकिन हमने क्या किया? हमने इस कायराना नीति को बदला।’ उल्लेखनीय है कि श्रीलंका में गिरजाघरों और लग्जरी होटलों में हुए सिलसिलेवार हमलों में 290 लोगों की मौत हो गई है।

मोदी ने कांग्रेस पर सरकारी कंपनी एचएल को ‘खत्म’ करने का आरोप लगाया और कहा कि उनकी सरकार ने ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम के तहत रक्षा उत्पादन बढ़ाया है। मोदी ने विपक्ष के किसी नेता का नाम लिए बगैर कहा कि जैसे ही वह वंशवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा की बात करते हैं, तो ‘कुछ’ लोगों को करंट लगने लगता है। उन्होंने कहा कि देशभर में लोकसभा चुनाव के पहले दो चरणों में भाजपा को मिली प्रतिक्रिया को देखकर विपक्ष बेचैन हो गया है।

मोदी ने प्याज उत्पादन के लिए जाने जाने वाले क्षेत्र में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने प्याज भंडारण क्षमता बढ़ाने और उसकी ढुलाई पर कर कम करने की कोशिश की। मोदी ने आरोप लगाया कि कि कांग्रेस बिचौलियों को लाभ पहुंचाने के लिए फसल की कीमतों से खेलती है। उन्होंने कहा, ‘मैंने इन बिचौलियों के खिलाफ लड़ाई लड़ी है।’

LEAVE A REPLY