नवजोत सिंह सिद्धू
नवजोत सिंह सिद्धू

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। बालाकोट में भारतीय वायुसेना की कार्रवाई से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। यूं तो पाक इस कार्रवाई से पहले दिन से ही इनकार करता रहा है, लेकिन अब वह भारत से ऐसे लोगों के बयान को प्रमुखता से प्रकाशित कर रहा है जो इस कार्रवाई पर सवाल उठाते हैं। पाकिस्तानी फौज और आईएसआई के इशारे पर वहां का मीडिया ऐसे लोगों को हाथोंहाथ लेता है जो भारतीय हैं और भारतीय वायुसेना के पराक्रम पर सवाल उठा रहे हैं।

इसी कड़ी में नया नाम कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का भी जुड़ गया है। हालांकि बालाकोट में कार्रवाई के बाद उन्होंने कहा था कि लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है, सांप जब डंक मारता है, उसका एंटीडोट विष ही है। आतंकियों का विनाश अनिवार्य है।

अब सिद्धू एक ताजा ट्वीट के बाद पाकिस्तान में छा गए हैं। उन्होंने कहा, ‘300 आतंकवादी मारे गए, हां या नहीं? तो फिर इसका उद्देश्य क्या था? आप आतंकवादियों को उखाड़ रहे थे या पेड़? क्या यह एक चुनावी हथकंडा है? सिद्धू ने ‘नसीहत’ दी है कि सेना का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए। आखिर में उन्होंने लिखा है, ऊंची दुकान फीका पकवान।

नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा किया गया ट्वीट
नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा किया गया ट्वीट

सिद्धू के इस बयान को पाकिस्तान के एक समाचार पत्र ने अपनी वेबसाइट पर प्रमुखता से प्रकाशित किया है। इसके अलावा ट्विटर और विभिन्न सोशल मीडिया वेबसाइट पर पाकिस्तानी यूजर्स सिद्धू के ट्वीट की तस्वीरें शेयर कर भारत की ओर से की गई कार्रवाई को झुठला रहे हैं। विवादित ट्वीट करने के बाद सिद्धू का नाम पाकिस्तानी मीडिया में फिर चर्चा में आ गया है। बता दें कि ​सिद्धू उस समय भी सुर्खियों में आए थे जब वे इमरान खान के शपथग्रहण समारोह में गए और वहां के सेना प्रमुख जनरल बाजवा को गले लगाया था।

LEAVE A REPLY