prince yakub habeebuddin tucy
prince yakub habeebuddin tucy

अयोध्या। मुगल खानदान के वंशज याकूब हबीबुद्दीन तुसी ने एक बार फिर खुलकर राम मंदिर निर्माण का पक्ष लिया है। इस मौके पर उन्होंने अपने पूर्वजों के पाप यानी मंदिर ध्वंस पर माफी मांगी है। तुसी हिंदू महासभा के स्वामी चक्रपाणि के साथ यहां आए और उन्होंने अपने पूर्वजों द्वारा किए गए इस कार्य के लिए माफी भी मांगी। उन्होंने अपने सिर पर चरण पादुकाएं रखीं और पूर्वजों की उस गलती के लिए प्रायश्चित किया।

याकूब हबीबुद्दीन तुसी जानकी घाट बड़ा स्थान में हुई बैठक में पहुंचे। उन्होंने बैठक में राम मंदिर के पक्ष में कई बयान दिए। उन्होंने कहा ​है कि राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद का विवाद टाइटल सूट से संबंधित है। तुसी ने बयान दिया कि एक पक्ष के तौर पर इस जमीन का ताल्लुक बाबर से है लेकिन उनके वंशज के तौर पर यह जमीन मैं मंदिर के लिए भारत के राष्ट्रप​ति को भेंट कर दूंगा। इसके बाद उन्होंने अयोध्या में राम जन्मभूमि पर शीघ्र ही भव्य राम मंदिर निर्माण की कामना की।

याकूब हबीबुद्दीन तूसी ने कहा है कि राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होने पर वे उसकी नींव में सर्वप्रथम सोने की ईंट रखना चाहेंगे। बता दें कि तुसी पहले भी अयोध्या में भव्य राम मंदिर पर बयान जारी कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि यदि राम जन्मभूमि पर मंदिर बनता है तो बतौर बाबर का वंशज उन्हें कोई ऐतराज नहीं होगा, बल्कि वे खुद पहली ईंट रखना चाहेंगे।

हैदराबाद निवासी तूसी ने अपने बयान में कहा था कि बाबर ने अपनी मौत से पहले हुमायूं को नसीहत दी थी कि यदि तुम्हें हिंदुस्तान में हुकूमत करनी है तो संतों-महंतों का सम्मान करो। तुसी कह चुके हैं कि बाबर ने अपने आखिरी समय में यह वसीयत की थी कि मीर बाकी द्वारा अयोध्या में की गई हरकत से पूरे तैमूरी खानदान पर कलंक लगा है। तुसी का इशारा मंदिर तोड़ने की घटना की ओर था। वे राम मंदिर पर रुख को लेकर हैदराबाद के सांसद ओवैसी की आलोचना भी कर चुके हैं।

ये भी पढ़िए:
– चार माह की बेटी को बचाने के लिए मां ने लगा दी जान की बाजी, ओलों की बौछार से हुआ ऐसा हाल
– भोजपुरी एक्ट्रेस मोनालिसा ने किया इस गाने पर डांडिया, इंटरनेट पर मचा रहा धूम
– एसबीआई: नेट बैंकिंग के लिए रजिस्टर करवाएं मोबाइल नंबर, अन्यथा बंद होगी सुविधा
– बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस ने मुंह से निकाली ‘ठांय-ठांय’ की आवाज, वायरल हुआ वीडियो

LEAVE A REPLY