पाकिस्तानी पासपोर्ट
पाकिस्तानी पासपोर्ट

ढाका/इस्लामाबाद/भाषा। पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच हालिया कूटनीतिक विवाद के बाद इस्लामाबाद स्थित बांग्लादेश उच्चायोग ने एक सप्ताह के लिए पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा जारी करना रोक दिया है। एक बांग्लादेशी अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

बांग्लादेश ने 1971 के मुक्ति संग्राम के कई युद्ध अपराधियों को फांसी देने का 2013 में फैसला किया था। इसके बाद से दोनों देशों के बीच संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं। बांग्लादेशी विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, आप इसे पाकिस्तानी रुख के विरोध का संकेत कह सकते हैं।

ढाका में विदेश मंत्रालय ने अभी इसके बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की है और पाकिस्तानी नागरिकों के वीजा रोकने को लेकर कोई आधिकारिक अधिसूचना जारी नहीं की गई है।

अधिकारी ने अपना नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि वीजा जारी करने के प्रभारी बांग्लादेशी राजनयिक पाकिस्तानियों के आवेदन को आगे बढ़ाने से बच रहे हैं क्योंकि पाकिस्तानी प्राधिकारियों ने उनके आधिकारिक वीजा की अवधि आगे बढ़ाने के आवेदन को पिछले चार महीनों से अटका रखा है।

उल्लेखनीय है कि ढाका में पाकिस्तानी उच्चायोग बांग्लादेश उच्चायोग के प्रेस एवं वीजा मामलों के काउंसलर इकबाल हुसैन के परिवार के सदस्यों के वीजा आवेदन को आगे नहीं बढ़ा रहा। इसके कारण हुसैन अपने परिवार से नहीं मिल पा रहे हैं।

दैनिक ‘ढाका ट्रिब्यून’ ने हुसैन के हवाले से कहा, पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा जारी किया जाना निलंबित कर दिया गया है क्योंकि इस्लामाबाद में बांग्लादेश उच्चायोग का वीजा काउंटर पिछले सोमवार (13 मई) से बंद है।

ढाका ने बांग्लादेश में पाकिस्तान की नई उच्चायुक्त के तौर पर सकलैन सैयदाह का नामांकन स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद पाकिस्तान ने वीजा की अवधि बढ़ाने में स्पष्ट रूप से देरी की है।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY