सोशल मीडिया सांकेतिक तस्वीर
सोशल मीडिया सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली/भाषा। चुनाव में सोशल मीडिया के माध्यम से फर्जी खबरों और नफरत फैलाने वाली सामग्री के प्रसार को रोकने के लिये चुनाव आयोग इस पर सख्त निगरानी रखेगा। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह ने सोमवार को कहा कि चुनाव में सोशल मीडिया के प्रयोग संबंधी दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा किए जाने एक दिन बाद दिल्ली में चुनावी तैयारियों की जानकारी देते हुए सिंह ने यह बात कही।

उन्होंने मतदाताओं से आयोग द्वारा शुरू किए गए मोबाइल एप सी-विजिल का बढ़-चढ़कर उपयोग करने की अपील करते हुए कहा कि इस एप के माध्यम से मतदाता चुनाव आचार संहिता के दुरुपयोग की शिकायत कर सकते हैं।

सिंह ने कहा कि इस एप के माध्यम से चुनाव में सोशल मीडिया के दुरुपयोग, मतदाताओं को प्रलोभन देने के लिए पैसा, शराब एवं अन्य उपहारों के वितरण जैसी शिकायतें कर सकेंगे। एप पर की गई शिकायत पर संबद्ध प्राधिकारी को सौ मिनट के भीतर कार्रवाई करना अनिवार्य है, जिससे शिकायत का निर्धारित समय में निस्तारण किया जा सके।

उल्लेखनीय है कि लोकसभा के चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई के बीच सात चरण में होंगे। दिल्ली की सभी सात सीटों पर 12 मई को मतदान होगा। सभी चरण के मतदान के बाद 23 मई को मतगणना होगी।

सिंह ने कहा कि दिल्ली में चुनाव के दौरान मीडिया मामलों से संबंधित निगरानी समिति (एमसीएमसी) में पहली बार एक सोशल मीडिया विशेषज्ञ को भी शामिल किया गया है। इसकी जिम्मेदारी सोशल मीडिया पर राज्य और जिला स्तर पर निगरानी रखना है। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से रेडियो, टीवी, सोशल मीडिया सहित अन्य सभी माध्यमों पर चुनाव के दौरान विभिन्न प्रकार की सामग्री के प्रसार पर निगरानी रखी जाएगी।

सिंह ने कहा कि नियमों के उल्लंघन पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। किसी व्यक्ति विशेष के खिलाफ शिकायत को जिला स्तर पर और राजनीतिक दलों के खिलाफ शिकायत को राज्य स्तर पर दर्ज किया जाएगा।

ज्ञात हो कि हाल ही में लोकसभा चुनाव की तारीखों की फर्जी खबर को दिल्ली में सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित किया गया था। चुनाव आयोग के निर्देश पर दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दिल्ली पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई थी। दिल्ली में 1.39 करोड़ मतदाता राष्ट्रीय राजधानी की सात सीटों पर उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला 12 मई को करेंगे।

LEAVE A REPLY