जम्मू/भाषाजम्मू-कश्मीर सरकार ने हरकत-उल-मुजाहिद्दीन के एक पूर्व आतंकवादी को जन सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में लेने का आदेश दिया है। सरकार को आशंका है कि किश्तवा़ड जिले में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने के लिए वह निर्दोष युवकों की भर्ती शुरू कर सकता है और उन्हें हथियार तथा गोला-बारूद मुहैया करा सकता है। एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि किश्तवा़ड के जिलाधिकारी अंगरेज सिंह राणा ने मोहम्मद अब्दुल्ला गुज्जर उर्फ दुल्ला उर्फ शेर खान के खिलाफ कानून के तहत आदेश जारी किया है कि उसे अधिकतम समय तक हिरासत में रखा जाए।गुज्जर किश्तवा़ड जिले के सिगदी भाटा गांव का निवासी है। जिलाधिकारी के आदेश में कहा गया है, किश्तवा़ड के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पीएसए के तहत हिरासत में रखने के लिए शेर खान के बारे में रिकॉर्ड सौंप दिया है। जिलाधिकारी ने बताया कि किश्तवा़ड के एसएसपी द्वारा सौंपे गए रिकॉर्ड को देखने के बाद कार्रवाई की गई। आदेश में कहा गया है कि अगर गुज्जर मुक्त रहा तो राज्य की सुरक्षा को गंभीर खतरा हो सकता है क्योंकि आशंका है कि वह फिर से युवकों की भर्ती शुरू कर सकता है और जिले में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने के लिए उन्हें हथियार तथा गोला-बारूद मुहैया करा सकता है और राज्य की संप्रभुता और सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

LEAVE A REPLY