tomato price in pakistan
tomato price in pakistan

नई दिल्ली/इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। भारत द्वारा आर्थिक मोर्चे पर पाकिस्तान की घेराबंदी का असर दिखाई देने लगा है। जहां 200 प्रतिशत तक सीमा शुल्क बढ़ाने से पाक का सीमेंट उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है। वहीं भारतीय किसानों द्वारा पाकिस्तान को टमाटर निर्यात न करने से वहां कीमतों में तेजी से इजाफा हुआ है। पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को दिए एमएफएन का दर्जा वापस ले लिया। इसके साथ ही हर मोर्चे पर पाक को करारा जवाब देने की तैयारी कर ली।

भारत की इन कोशिशों का असर भी दिखाई देने लगा है। इस समय पूरे पाकिस्तान में टमाटर की कीमतें बढ़ गई हैं। पाकिस्तान के लाहौर शहर में ही टमाटर 180 रुपए प्रति​ किलोग्राम बिक रहे हैं। दूर-दराज के कई इलाकों में तो टमाटर की कीमतें 250 रुपए प्रति किग्रा तक जा पहुंची हैं। इस वजह से पाकिस्तानियों की थाली से टमाटर गायब हो गया है। पाक की आतंकी हरकतों की वजह से उसकी अवाम के सामने मुश्किलें खड़ी हो रही हैं।

उल्लेखनीय है कि देश में पाकिस्तान के खिलाफ गहरा गुस्सा है। जवानों की शहादत के बाद किसानों ने कहा है कि वे अपने खेत की उपज पाकिस्तान को नहीं देंगे। पाकिस्तान को हमारे देश से टमाटर निर्यात किया जाता है। किसानों के सख्त रुख के बाद पड़ोसी मुल्क में टमाटरों की किल्लत पैदा हो गई। ऊंची कीमतों के कारण वहां बाजार और रेस्टोरेंट से टमाटर गायब होने लगा है। भारत के किसानों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वे टमाटर किसी अन्य देश को निर्यात कराएं। पाक को टमाटर भेजने से बेहतर है कि वे जानवरों को ही यह खिला देंगे।

LEAVE A REPLY