तीनों सेनाओं की ओर से साझा प्रेसवार्ता
तीनों सेनाओं की ओर से साझा प्रेसवार्ता

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। पाकिस्तान से बढ़ते तनाव के बीच गुरुवार शाम को भारत की तीनों सेनाओं की संयुक्त प्रेसवार्ता हुई। इसमें थल सेना से मेजर जनरल सुरेंद्र सिंह महल, वायुसेना से एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर और नौसेना से रियर एडमिरल दलबीर सिंह गुजराल मौजूद थे।

वायुसेना ने पाक के उस झूठे दावे की पोल खोली जिसमें पड़ोसी मुल्क की फौज ने कहा था कि उसकी हिरासत में दो पायलट हैं। वायुसेना ने पाक को दो टूक कहा कि उसके विमानों ने हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने का प्रयास किया। भारत के मिग-21 ने पाक के एफ-16 को मार गिराया था। इस बात पर भी खुशी जताई गई कि विंग कमांडर अभिनंदन भारत आ रहे हैं। वायुसेना ने कहा कि 27 फरवरी को सुबह 10 बजे रडार पर पाक के विमान आते देखे गए थे। इसके बाद भारत के मिराज, सुखोई और मिग-21 ने सामना किया। पाक का नष्ट हुआ एफ-16 पीओके में गिरा था। उसके दो पायलटों को गिरते देखा गया।

वायुसेना ने कहा कि राजौरी में एमरॉम मिसाइल के अवशेष बरामद हुए जो इस बात को पुख्ता करते हैं कि पाकिस्तान ने एफ-16 विमान का हमारे खिलाफ इस्तेमाल किया था। वायुसेना ने मिसाइल के अवशेष दिखाकर पाक के झूठ को बेनकाब किया। इसके अलावा यह भी कहा गया कि वायुसेना के पास बालाकोट में की गई कार्रवाई और आतंकी कैंप को नुकसान के पुख्ता सबू​त हैं। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट में दिखाए गए विमान के इंजन के बारे में कहा कि वह एफ-16 का था। वायुसेना ने कहा कि जो करना चाहते थे, उसे हासिल कर लिया गया है। सरकार पर निर्भर है कि वह किस प्रकार सबूतों को सामने रखती है।

प्रेसवार्ता में थलसेना ने कहा कि पाक निरंतर युद्ध विराम का उल्लंघन कर रहा है। उसे भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। पाकिस्तान की किसी भी हिमाकत का जवाब देने के लिए सेना पूरी तरह तैयार है। सेना ने कहा कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है और आतंकी कैंपों को निशाना बनाते रहेंगे। भारत और उसके नागरिकों के खिलाफ काम करने वालों को सबक सिखाते रहेंगे।

पाक द्वारा दागी गई मिसाइल के टुकड़े
पाक द्वारा दागी गई मिसाइल के टुकड़े

दो दिनों में पाकिस्तान ने 35 बार युद्ध विराम उल्लंघन किया है। 27 फरवरी को पाकिस्तानी वायुसेना ने भारतीय सेना के ब्रिगेड मुख्यालय, बटालियन मुख्यालय और अन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की। इसे विफल कर दिया गया। सेना ने बताया कि वह पाक की किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए हमेशा तैयार है। वहीं, नौसेना ने भी साफ किया कि वह पूरी तरह तैयार है। यदि पाक कोई हरकत करता है तो उसे सख्ती से जवाब दिया जाएगा। रियर एडमिरल गुजराल ने कहा कि नौसेना देश की सुरक्षा के लिए थल और वायुसेना के साथ एकजुट है।

बता दें कि आतंकियों के खिलाफ भारतीय वायुसेना द्वारा बालाकोट में की गई कार्रवाई के बाद पाक बौखलाया हुआ है। गुरुवार को उसने एलओसी पर युद्ध विराम का उल्लंघन किया। पाक की ओर से सुंदरबनी, मानकोट, खरी कारमारा और देगवार सेक्टर में गोलीबारी की गई।

पाकिस्तानी फौज ने सुबह 6 बजे से गोलीबारी शुरू की। इस दौरान पड़ोसी मुल्क की ओर से भारतीय जवानों की ओर मोर्टार दागे गए। वहीं, भारतीय सेना इस नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दे रही है। एक अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास अग्रिम चौकियों पर भारी गोलाबारी की। यह लगातार सातवां दिन है जब पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास अग्रिम चौकियों को निशाना बनाकर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है।

रक्षा विभाग ने बताया कि पाकिस्तानी फौज ने कृष्णा घाटी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास अकारण ही मोर्टार दागने के साथ गोलाबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। भारतीय सेना ने जोरदार और प्रभावी ढंग से जवाबी कार्रवाई की। मौजूदा हालात के मद्देनजर अधिकारियों ने राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा के पास पांच किलोमीटर के दायरे में शैक्षणिक संस्थानों को अस्थायी रूप से बंद करने का आदेश दिया है।

1 COMMENT

  1. Comment:और भी सावधानी बरतने की ज़रुरत है।
    आया पाकिस्ताव से टकराने का मुहुरत है।
    वतन से जयचंदों जिन्नाओं को मिटाने की जरुरत है।

LEAVE A REPLY