प्रकाश जावड़ेकर
प्रकाश जावड़ेकर

बेंगलूरु/नई दिल्ली/भाषा। कर्नाटक में ट्रेन लेट होने की वजह से जिन छात्रों की मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट छूट गई थी उन्हें एक और मौका दिया जाएगा। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि इन छात्रों के लिये राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) का आयोजन 20 मई को किया जाएगा। जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा, यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि कर्नाटक के जिन छात्रों की नीट परीक्षा ट्रेन लेट होने की वजह से छूट गई थी उन्हें एक और मौका मिलेगा।

देश भर के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिये रविवार को नीट का आयोजन किया गया था। लेकिन कर्नाटक के सैकड़ों छात्र इस परीक्षा में शामिल होने से वंचित रह गए क्योंकि परीक्षा के लिये पहुंचने की खातिर निर्धारित समय से एक घंटा बाद उनकी ट्रेन बेंगलूरु पहुंची।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने रविवार को यह मुद्दा उठाते हुए ट्वीट किया था। उन्होंने अपने इस ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग किया था। नीट का पहली बार आयोजन कर रही नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने घोषणा की कि परीक्षा केंद्र पूर्ववत रहेंगे। ओडिशा में भी फोनी तूफान की वजह से परीक्षा टाल दी गई थी। यहां भी 20 मई को परीक्षा का आयोजन होगा।

LEAVE A REPLY