गौतम गंभीर
गौतम गंभीर

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। क्रिकेट से राजनीति में आए और दिल्ली-पूर्व से लोकसभा सांसद चुने गए गौतम गंभीर ने अंबाती रायुडू के अचानक संन्यास लिए जाने के फैसले पर टिप्पणी की है। उन्होंने इसके लिए बीसीसीआई के चयनकर्ताओं को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने चयनकर्ताओं के रुख ‘शर्मनाक’ कहा है।

गौरम गंभीर ने कहा कि चयनकर्ताओं ने रायुडू को नजरअंदाज किया। इस वजह से उन्होंने संन्यास लिया। बता दें कि रायडू (33) ने बुधवार को ऐलान किया था कि वे संन्यास ले रहे हैं। उन्हें विश्व कप के लिए चयनकर्ताओं ने 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया था। इसके अलावा उन्हें रिजर्व खिलाड़ियों में भी स्थान नहीं दिया। आखिरकार रायडू ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया।

गौतम गंभीर ने इस संबंध में ट्वीट किया, ‘मुझे लगता है कि इस विश्व कप में चयनकर्ता पूरी तरह से निराश होंगे। रायुडू के संन्यास लेने का कारण वे ही हैं।’ उन्होंने कहा कि वे रायुडू के संन्यास लेने के फैसले से निराश हैं। गंभीर ने चयनकर्ताओं के बारे में कहा कि पांच चयनकर्ताओं ने मिलकर भी उतने रन ही बनाए होंगे, जितने कि रायडू ने अपने करियर में बनाए हैं।

बता दें कि रायुडू ने भारत के लिए 55 वनडे खेलते हुए 47.05 के औसत से 1,694 रन बनाए हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कुछ महीने पहले चौथे नंबर के लिए रायुडू के नाम की घोषणा की थी लेकिन टूर्नामेंट के लिए चुनी गई अंतिम टीम में रायुडू की अनदेखी की गई और शंकर को चुना गया।

LEAVE A REPLY