गुजरात के सोमनाथ से दबोचा गया आनंद सिंह पर हमला करने वाला विधायक गणेश

0

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। पिछले एक महीने से शहर के बाहरी इलाके में एक निजी रिसॉर्ट में साथी विधायक आनंद सिंह पर बेरहमी से हमला करने के बाद फरार चल रहे कर्नाटक के निलंबित कांग्रेस विधायक जेएन गणेश बुधवार को गुजरात के सोमनाथ में बिड़दी पुलिस की एक टीम के हत्थे चढ़ गए। बिड़दी पुलिस ने 21 जनवरी को आनंद सिंह की पत्नी की शिकायत पर गणेश के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। साथ ही गणेश को गिरफ्तार करने के लिए तीन टीमों का गठन किया गया था।

एक 17 सदस्यीय दल सोमनाथ के एक अज्ञात स्थान से उसे पकड़ने में सफल रहा। घटना के बाद कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) के अध्यक्ष दिनेश गुंडुराव ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से बल्लारी से कांपल्ली के विधायक गणेश को निलंबित कर दिया था। उसके तुरंत बाद गणेश लापता हो गया था।

उल्लेखनीय है कि आनंद सिंह पर हमले की यह घटना उस समय हुई जब कांग्रेस विधायकों को ईगलटन रिजॉर्ट ले जाया गया था। कांग्रेस को आशंका थी कि भाजपा ‘ऑपरेशन कमल’ के तहत कांग्रेसी विधायकों को लुभाने का प्रयास कर सकती है। उनके प्रवास के दौरान 20 जनवरी की रात कथित रूप से शराब के नशे में गणेश ने साथ विधायक आनंद सिंह के साथ मारपीट की थी।

उसके हमले में गंभीर रूप से घायल हुए आनंद सिंह को एक निजी अस्पताल में अपनी दाहिनी आंख और छाती पर लगी गंभीर चोटों की सर्जरी करवानी पड़ी थी। वह राज्य विधानमंडल के बजट सत्र में उस दिन भाग नहीं ले सके थे जिस दिन वित्त विधेयक पारित किया गया था। माना जा रहा है कि पुलिस टीम गणेश को आज शाम तक शहर लाकर गिरफ्तारी की औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर अपनी हिरासत लेगी। यह हत्या के प्रयास का मामला था। इस बीच, गणेश ने स्थानीय अदालत में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन दायर किया लेकिन हाल ही में इसे वापस ले लिया था।

LEAVE A REPLY