बेंगलूरु/दक्षिण भारत केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा है कि ईमानदारी व्यापारी की साख होती है, किसी भी समस्या के समाधान का आकलन एक व्यापारी ही कर सकता है सरकार भी व्यापारी की कार्यशैली की तरह ही चलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ऐसी ही एक बेहतरीन सरकार व सुशासन का संचालन हो रहा है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्र व राज्य में कोर्डिनेशन के लिए अथवा सामूहिक विकास के लिए दोनों जगह एक ही दल की सरकार होना जरुरी है, इसीलिए कर्नाटक में अगले माह होने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा की सरकार बननी चाहिए। शुक्रवार शाम यहां एक होटल में अग्रवाल-वैश्य समाज के एक परिचयात्मक कार्यक्रम में अपने अभिनंदन समारोह में बोलते हुए विजय गोयल ने उपस्थित सभी लोगों से जोर देकर आह्वान किया कि केंद्र से राज्य तक मोदीजी के हाथ मजबूत करने के लिए भाजपा के पक्ष में मतदान करना होगा। आयोजन के सूत्रधार महाराजा अग्रसेन हॉस्पिटल के अध्यक्ष डॉ.सतीश जैन व अग्रवाल समाज कर्नाटक के अध्यक्ष सुभाष बंसल सहित अनेक लोगों ने गोयल का माल्यार्पण व शाल्यार्पण कर, मैसूर फेटा पहनाकर तथा मेमेंटो भेंट कर सम्मान किया। इस अवसर पर गोयल ने यह भी कहा कि ‘अभिनंदन जिम्मेदारी लाते हैं, मेरी भी जिम्मेदारी आज और अधिक ब़ढ गई है। अग्रवाल समाज से हूँ इस पर मुझे गर्व है तथा आज जो कुछ भी हूँ व हमारे समाज व संस्कारों की वजह से हूँ।’’ उन्होंने कहा कि समाजवाद की नींव महाराजा अग्रसेनजी ने रखी थी। शिक्षा, संस्कार व अपने ज्ञान की वजह से मेहनत के दम पर विविध क्षेत्रों में अग्रवाल-वैश्य समाज के लोगों ने अपना परचम फहराया है। समाज में हो रहे सकारात्मक परिवर्तन की लहर पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि रचनात्मक और कंस्ट्रेक्टिव कार्य समय की जरुरत है। गोयल ने कहा कि राजनीति में भी हमारी भागीदारी समाज में दिए गए योगदान व आमजन के लिए किए गए कार्यों की वजह से तथा स्वयं की पहचान से ब़ढनी चाहिए। हमारे व हमारी भावी पी़ढी के भविष्य के बारे में सोचने व कार्य करने वाले नरेंद्र मोदी के रुप में देश को पहला ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जो कि २४ घंटे व सातों दिनों तक कार्य करता है। अनेक उदाहरणों व प्रसंगों का उल्लेख करते हुए केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने मोदी सरकार के निर्णयों में नोटबंदी, जीएसटी व दलित आरक्षण सहित अनेक विषयों पर सकारात्मक पक्ष रखा व विविध उपलब्धियों का बखान किया। उन्होंने कहा कि देश की जनता आज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ है। विजय गोयल ने अपने ४४ मिनट के उद्बोधन के बाद उपस्थित लोगों के साथ मंे सीधा संवाद भी किया व अनेक सवालों के जवाब दिये। इस अवसर पर अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन के महामंत्री गोपाल मोर, भाजपा के नई दिल्ली प्रदेश के प्रवक्ता अशोक गोयल ने भी विचार रखे। उद्योगपति विनोद बंसल भी मंच पर मौजूद रहे। अतिथियों के करकमलों से दीप रोशन कर शुरु हुए कार्यक्रम में सभी का स्वागत सतीश जैन ने किया। उन्होंने कहा कि समाज के विकास पुरुष, सरल-सहज विजय गोयल की प्रतिभा को पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी ने वर्षों पूर्व शॉर्ट नेम ‘विजी’’ यानी ‘वेरी गुड’’ का संबोधन देकर भांप लिया था। केंद्रीय मंत्री व समाज के वरिष्ठ व्यक्तित्व व कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए सतीश जैन ने कहा कि निश्चित रुप से वैश्य-अग्रवाल समाज भाजपा का ही वोट बैंक रहा है तथा भविष्य में भी हमें भाजपा के पक्ष में मतदान करने के लिए वृहद स्तर पर अपने योगदान को ब़ढाना होगा। इस अवसर पर इंटरनेशनल वैश्य फेडरेशन के अध्यक्ष बिपिनराम अग्रवाल, हरियाणा सेवा ट्रस्ट के सचिव किशन अग्रवाल, राजस्थान संघ के चेयरमैन रमेश मेहता, अग्रवाल यूथ विंग के अध्यक्ष यतीश जैन, अग्रवाल महिला मंडल की अध्यक्ष राज अग्रवाल, महेश मित्तल, ललित गुप्ता, मदनलाल अग्रवाल, विनोद बंसल, सुभाष गोयल, राजेंद्र गोयल, रतनलाल सिंघल, हनुमान गुप्ता, प्रकाश मांडोत, किरण जैन, संजय गुप्ता, डॉ.सुमन गुप्ता, कैलाश संकलेचा, प्रीतम अग्रवाल, शिवकुमार टेक़डीवाल, दिनेश झुरिया व आरएसएस के हर्षवर्द्धन, कविता पोरवाल सहित अनेक समाज के लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ.अभिषेक मोदी ने किया।

LEAVE A REPLY