international monetary fund
international monetary fund

वॉशिंगटन/भाषा। अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) ने कहा कि भारत में पिछले पांच साल के दौरान कई महत्वपूर्ण सुधार किए गए हैं। हालांकि उसने कहा कि अभी और सुधार किए जाने की जरूरत है।

आईएमएफ के निदेशक (संचार) गैरी राइस ने यहां बृहस्पतिवार को एक सवाल के जवाब में कहा, भारत पिछले पांच साल के दौरान करीब सात प्रतिशत की सालाना औसत आर्थिक वृद्धि दर के साथ सबसे तेजी से वृद्धि करती बड़ी अर्थव्यवस्थाओं से एक रहा है।

उन्होंने कहा, कई महत्वपूर्ण सुधार किए गए हैं और हमें लगता है कि भारत को तेज वृद्धि बनाए रखने के लिए उपलब्ध जनसांख्यिकीय लाभांश के अवसरों को भुनाने समेत कुछ अन्य सुधार करने होंगे।

राइस ने कहा कि अगले महीने विश्वबैंक के साथ आईएमएएफ की होने वाली बैठक से पहले वैश्विक आर्थिक परिदृश्य सर्वेक्षण जारी होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में सर्वेक्षण में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।

यह भारतीय अमेरिकी अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ के नेतृत्व में पहला सर्वेक्षण होगा। गोपीनाथ को पिछले साल आईएमएफ ने मुख्य अर्थशास्त्री बनाया था।

LEAVE A REPLY