Illegal Rohingyas India
Illegal Rohingyas India

नई दिल्ली/वार्ता। असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) लागू करने की कवायद शुरू होने के बाद त्रिपुरा में भी स्थानीय लोगों ने गैर कानूनी ढंग से रह रहे लोगों का पता लगाने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से राज्य में एनआरसी लागू करने की मांग की है।

त्रिपुरा की इंडीजिनियस नेशनलस्टि पार्टी (आईएनपीटी) के अध्यक्ष विजय कुमार हरखवाल के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने यहां नॉर्थ ब्लॉक में सिंह से मुलाकात की और राज्य में एनआरसी लागू करने का अनुरोध किया। उन्होंने दावा किया कि गृह मंत्री ने शिष्टमंडल को आश्वासन दिया कि केन्द्र उनकी मांग पर विचार करेगा।

हरखवाल ने कहा कि उन्होंने गृह मंत्री को बताया है कि असम की तरह त्रिपुरा में भी बड़ी संख्या में विदेशी गैर कानूनी ढंग से रह रहे हैं और उनका पता लगा कर इन्हें वापस उनके देश भेजा जाना चाहिए।

आईएनपीटी ने कुछ दिन पहले ही कहा था कि वह इस मुद्दे को लेकर उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर करने पर विचार कर रही है। उल्लेखनीय है कि केन्द्र ने असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर का मसौदा तैयार किया है। इसे अंतिम रूप देने के बाद वहां अवैध ढंग से रह रहे विदेशियोंं की पहचान कर उन्हें उनके देश वापस भेजा जाएगा।

एनआरसी का मसौदा आने के बाद इस पर विपक्ष के कई राजनेताओं ने खासा विवाद खड़ा कर दिया था। खासकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि इससे देश में रक्तपात की नौबत आ सकती है। हालांकि देश के आम नागरिकों ने लाखों की तादाद में एनआरसी का समर्थन किया। देश के ​कई हिस्सों में अवैध ढंग से रोहिंग्या भी रह रहे हैं, जिन्हें निकालने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

ये भी पढ़िए:
– तेज रफ्तार से चल रही थी ट्रेन, अचानक फिसली यह लड़की, वीडियो रोंगटे खड़े कर देगा
– योगी को घेरने की कोशिश में दिग्विजय ने पोस्ट की फर्जी तस्वीर, खूब उड़ रहा मजाक
– अगर भारत में हो जापान की इस तकनीक का इस्तेमाल तो मुफ्त में मिल सकती है बिजली!
– जेल में छुपकर बातें करता था कैदी, पोल खुलने के डर से निगल लिया मोबाइल

LEAVE A REPLY