pm narendra modi
pm narendra modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को दिवाली की शुभकामनाएं दी हैं। इसके साथ उन्होंने इशारों ही इशारों में स्वदेशी वस्तुओं की खरीदारी का संदेश भी दिया है। एक वीडियो संदेश में यह बताया गया है कि किस प्रकार लघु उद्योग हमारी खुशियों से जुड़े हैं और हर एक नागरिक द्वारा की गई खरीदारी दूसरे के जीवन को प्रभावित करती है। वीडियो संदेश में प्रधानमंत्री कहते हैं कि जब हम खरीदारी करें तो यह सोचना चाहिए कि इससे देश के किसी नागरिक को फायदा हो।

इस वीडियो संदेश में दिवाली की खरीदारी के माध्यम से यह दिखाया गया है कि जब कोई नए कपड़े सिलवाता है, दीपक खरीदता है या पूजन से जुड़ी सामग्री घर लाता है तो इससे देश के किसी दूसरे नागरिक को भी फायदा मिलता है। इससे उसका जीवन खुशहाल होता है। संदेश में इस बात पर विशेष जोर दिया गया है कि जरूरत में आपके अपने ही काम आते हैं।

इस पंक्ति का अर्थ यह समझा जा रहा है कि हर देशवासी को दूसरे की खुशहाली का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि हमारे हित साझा हैं। जब एक के घर में खुशहाली आती है तो वह दूसरे के घर में भी जरूर दस्तक देती है। वीडियो में यह संदेश दिया गया है कि जहां तक संभव हो, त्योहार के इस मौसम में स्वदेशी वस्तुओं का उपयोग करना चाहिए।

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी कहते हैं कि मेरे प्यारे देशवासियो! क्या हम खरीदारी करते वक्त सोच सकते हैं कि मैं जो चीज खरीद रहा हूं, उससे मेरे ​देश के किस नागरिक का लाभ होगा, किस-किस चेहरे पर खुशियां आएंगी? अपने संदेश में मोदी कहते हैं कि गरीब से गरीब को लाभ होगा तो खुशी अधिक से अधिक होगी। इस पवित्र पर्व के लिए आप सबको हृदयपूर्वक बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं।

संदेश के मायने
होली, दिवाली, क्रिसमस और दूसरे बड़े त्योहारों पर करोड़ों रुपए की खरीदारी होती है। खासतौर से दिवाली से जुड़ी खरीद-बिक्री की अर्थव्यवस्था में बड़ी अहमियत है। अगर इस दौरान देशवासी ऐसे सामान की खरीद को तरजीह दें, विशेष रूप से लघु उद्योगों से निर्मित सामान को जिनका उत्पादन भारत में हुआ है और जिनका फायदा भी देश को ही मिले, तो यह बहुत बड़ी रकम हो जाती है। अगर यह देश के अर्थतंत्र में मौजूद रहती है तो इससे न केवल देश में खुशहाली आती है, बल्कि अर्थव्यवस्था भी मजबूत होती है। इससे देश की विदेशी मुद्रा पर निर्भरता कम होती है।

इसके अलावा स्वदेशी उद्योगों की स्थित सुदृढ़ होने से रोजगार के अनेक अवसरों का सृजन होता है। प्रधानमंत्री का यह संदेश इसलिए भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि हाल में उन्होंने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) की बेहतरी के लिए सरकार द्वारा उठाए गए 12 फैसलों का ऐलान किया है। इसके तहत इन उद्यमों को सिर्फ 59 मिनट में कर्ज की मंजूरी मिल सकेगी।

ये भी पढ़िए:
– वीडियो: केदारनाथ में हो रही बर्फबारी, यहां कीजिए धाम के दर्शन
– कारोबार के लिए लेना चाहते हैं 59 मिनट में कर्ज? ये है आसान तरीका
– राम मंदिर मामले पर रामदेव का बयान- न्यायालय में देर हुई तो संसद में आएगा बिल
– तेज प्रताप ने ऐश्वर्या से तलाक की बताई वजह, कहा- घुट-घुटकर नहीं जी सकता

LEAVE A REPLY