आकाश की खूबियां होंगी बेहतर

नई दिल्ली। सरकार ने सस्ता टैबलेट लैपटाप आकाश की कीमत में किसी तरह की वृध्दि करने से साफ तौर पर इनकार करते हुए कहा कि इसकी खूबियों और विशिष्टताओं को बेहतर बनाया जाएगा और यह दुनिया का सबसे सस्ता टैबलेट बना रहेगा।
मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव एनके सिन्हा ने ‘भाषा’ से कहा कि आकाश की कीमत 2,276 रुपए रहेगी और भविष्य में इसे और कम करने का प्रयास किया जाएगा । इस टैबलेट की विशिष्टताओं और खूबियों को उन्नत किया जाएगा ताकि यह अपने स्तर की दुनिया में उपलब्ध टैबलेट से बेहतर बन सके।
अधिकारी से उन मीडिया खबरों के बारे में पूछा गया था कि आकाश की खूबियों को बेहतर बनाने पर इसकी कीमत बढ़ कर 100 डॉलर (करीब पांच हजार रुपए) हो सकती है। इन खबरों से इनकार करते हुए उन्होंने कहा, अगर ऐसा हुआ तब आकाश का कोई मतलब नहीं रह जाएगा।
आकाश के स्तर के आई पैड, सैमसंग, रिलायंस 3जी, बीटल इमैंजिंग जैसे दुनिया में कुछ ही चुनिंदा टैबलेट प्रचलित हैं लेकिन इनकी कीमत आकाश से कही अधिक है। आकाश के प्रोसेसर 366 मेगाहर्ट्ज है जबकि सैमसंग का 1 गिगा हट्र्ज, आईपैड का 1 गिगा हट्र्ज, रिलायंस का 800 मेगा हट्र्ज और बीटल इमैजिंग का 1 गिगा हट्र्ज है। आकाश की मेमोरी 2 जीबी है, वहीं सैमसंग की 16 जीबी, आईपैड की 16 जीबी, रिलायंस की 4 जीबी और बीटल इमैजिंग की 8 जीबी है। आकश का रैम 256 एमबी का है जबकि सैमसंग का 512 एमबी, आईपैड का 256 एमबी, रिलायंस का 512 एमबी और बीटज इमैजिंग का 256 एमबी है। इन टैबलेटों में आकाश का काफी सस्ता होना उसे शिक्षा के प्रचार के लिए अहम बनााता है।
आकाश की गुणवत्ता के बारे में कई शिकायतें प्राप्त हुई थी जिसमें कहा गया था कि इस सस्ते टैबलेट लैपटाप की बैटरी, प्रोसेसर और आर्किटेक्चर के संबंध में शिकायत प्राप्त हुई थी। अधिकारी ने कहा कि इसमें सुधार किया गया है। बैटरी की क्षमता में जहां डेढ गुना वृध्दि की गई है, वहीं प्रोसेसर को 366 मेगा हर्ट्ज से बढ़ाकर 700 मेगा हर्ट्ज कर दिया गया है। इसके आर्किटेक्चर को भी बेहतर बनाया गया है जबकि कीमत 2,276 रूपये ही रखा गया है। उन्नत आकाश अप्रैल तक उपलब्ध होगा।

Be Sociable, Share!

Short URL: http://www.dakshinbharat.com/?p=3011

Posted by on Feb 11 2012. Filed under मुख्य सुर्खियाँ. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can leave a response or trackback to this entry

You must be logged in to post a comment Login

Powered by Givontech